अमित शाह के बेटे की जांच हो, संघ की ओर से इस नेता का आया बयान

आश्चर्यजनक रुप से कंपनी के टर्नओवर बढ़ने के मामले में चर्चा में आए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के पुत्र जय शाह मामले की जांच की मांग अब विपक्ष के बाद आरएसएस की ओर से आ गई है. जय शाह प्रकरण पर संघ की ओर से यह पहला बयान आया है.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने कहा कि अगर जय शाह के खिलाफ कोई मामला बनता है तो निश्चित रुप से इसकी जांच होनी चाहिए.

क्या है मामला
एक वेबसाइट द वायर के मुताबिक अमित शाह के पुत्र की कंपनी में मार्च 2013 और मार्च 2014 तक कुछ खास काम नहीं हुआ फिर भी कंपनी को दोनों साल लगातार घाटा होता गया. अचानक 2015 में इस कंपनी का टर्नओवर 81 करोड़ रुपया हो गया.

साल 2014.15 के दौरान उनकी कंपनी को कुल 50000 रुपये की इनकम पर कुल 18728 रुपये का लाभ हुआ. मगर 2015.16 के वित्त वर्ष के दौरान जय की कंपनी का टर्नओवर लंबी छलांग लगाते हुए 80.5 करोड़ रुपये का हो गया. यह 2014.15 के मुकाबले 16 हजार गुना ज्यादा है। जय की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड के टर्नओवर में उछाल की वजह 15.78 करोड़ रुपये का अनसेक्योर्ड लोन है जिसे राजेश खंडवाल की फिनांशियल सर्विसेज फर्म ने उपलब्ध कराया है. यहां यह बताना जरूरी है कि राकेश खंडवाला भाजपा के राज्यसभा सांसद और रिलायंस इंडस्ट्रीज के टॉप एग्जिक्यूटिव परिमल नथवानी के समधी हैं.

कांग्रेस  सांसद कपिल सिब्बल ने इसके साथ ही अमित शाह के बेटे की दूसरी कंपनी कुसुम फिनसर्व को लेकर भी गंभीर आरोप लगाए. इस कंपनी में जय अमितभाई शाह का शेयर 60 फीसदी है. इस कंपनी को भी राजेश खंडेलवाल ने लोन दिए हैं. कपिल सिब्बल का कहना है, “गड़बड़ी हुई है या नहीं ये तो जांच से पता चलेगा, हम जांच की मांग कर रहे हैं. क्या पीएम जांच करवाएंगे? मैं पीएम से ये जानना चाहता हूँ कि क्या अब आप सीबीआई को जांच सौपेंगे? जिसके नाम में जय अमित शाह लगा हो उसे कौन गिरफ्तार करेगा ?

Rate this post
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here