मानसिक रोगी हैं अशोक चौधरी

कांग्रेस समेत सभी दलों में अध्यक्ष का बदलना कोई नई बात नहीं है. प्रदेश अध्यक्ष तो हमेशा बदलते रहे हैं परंतु इस बार बिहार कांग्रेस में मतभेद और कलह अब सार्वजनिक हो गया है. सदाकत आश्रम में दोनों गुटों के बीच हुई झड़प की खबरों ने पार्टी के साधारण कार्यकर्ताओं को निराश किया. इसी बीच कांग्रेस में प्रेस काॅंफ्रेंस का खेल भी शुरु हो गया है. इधर प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी की प्रेस वार्ता खत्म नहीं होती कि उधर से पूर्व अध्यक्ष डाॅ अशोक चौधरी का संवाददाता सम्मेलन शुरु हो जाता है.

आज प्रभारी प्रदेश अध्यक्ष कौकब कादरी ने अशोक चौधरी को मानसिक रोगी बता दिया है. उन्होंने कहा कि मुझे दूसरे दल का आदमी कहा जा रहा है, ऐसी बातें कहने वाले मानसिक तौर पर बीमार हैं.

कार्यकारी अध्‍यक्ष कौकब कादरी ने पूर्व अध्‍यक्ष अशोक चौधरी पर कार्रवाई करने की बात कही है. उन्‍होंने कहा कि जिस तरह से प्रदेश कार्यालय सदाकत आश्रम में मारपीट और नारेबाजी की गई है, उसने साफ तौर पर कांग्रेस की प्रतिष्‍ठा को धूमिल करने का काम किया है. इस मामले में एक जांच समिति गठित की गई है. रिपोर्ट मिलते ही कार्रवाई की जायेगी.

कादरी ने बुधवार को पटना स्थित सदाकत आश्रम संवाददाता सम्‍मेलन में कहा कि अशोक चौधरी का 16 लाख नए सदस्य बनाने दावा झूठा है। उन्होनें पार्टी कोष में 80 लाख रुपए तो जमा कराए हैं लेकिन सदस्य केवल 4.70 लाख ही हैं.

 

Rate this post
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here