बिहार में अधर्म के गठबंधन की सरकार: सिंधिया

पूर्व केंद्रीय मंत्री सह कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य माधवराव सिंधिया कल राजधानी पटना में थें. मौका था कांग्रेस कार्यकर्ताओं से राज्य की बदली राजनीतिक परिस्थितियों में उनके विचारों को सुनने का. सिंधिया ने बिहार कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम के सभागार में पार्टी के जिलााध्यक्षों, प्रदेश पदाधिकारियों, सभी प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों, विधायकों और पूर्व प्रत्याशियों के साथ बैठक की. उनके दिल की बात सुनी और अपनी भी सुनाई.

कई पार्टी पदाधिकारी जहां गठबंधन समाप्त कर अपने दम पर पार्टी को खड़ा करने के पक्ष में थें तो कई ने राजद के साथ गठबंधन को वक्त की जरुरत बताते हुए जारी रखने पर बल दिया.

इस मौके पर सदाकत आश्रम में सिंधिया ने संवाददाताओं के साथ भी बातचीत की. उन्होंने सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि हम वैसे हर व्यक्ति का विरोध करेंगें जो सत्ता हासिल करने के लिए किसी भी स्तर तक गिर सकता है. उन्होंने बिहार में जेडीयू और भाजपा के गठबंधन पर कहा कि यह एक अनैतिक और अधर्म वाला गठबंधन है. कल तक आप एक दूसरे की आलोचना करते थें, आज सत्ता के लिए वह एक हो गएं.

सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस के वर्कर हर गांव और मुहल्ले में जाकर इस नापाक गठबंधन के बारे में बताएंगें. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि अब जो हो गया, उसका पोस्टमार्टम करने से कोई फायदा नहीं है. राजद और कांग्रेस के गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि इसका फैसला हाईकमान, प्रदेश नेतृत्व और प्रभारी महासचिव करेंगें.

इस मौके पर सिंधिया के साथ दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डाॅ अशोक चैधरी, पूर्व अध्यक्ष अनिल शर्मा, कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह, पूर्व मंत्री मदन मोहन झा, मिन्नत रहमानी, कुमार आशीष, नागेंद्र कुमार विकल, मंजीत आनंद साहू आदि उपस्थित थें.

Rate this post
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here