वायरल खुलासा 11: क्या सचमुच व्यापारियों ने बिल पर लिखवाया है ” कमल का फूल हमारी भूल “

सोशल मीडिया की दुनिया की बात हीं निराली है. यहां सच को झूठ और झूठ को सच बताकर जनता के सामने परोसने वाले महारथियों की कोई कमी नहीं है.

आजकल सोशल मीडिया पर तेजी से एक संदेश प्रसारित हो रहा है जिसमें कहा जा रहा है कि गुजरात के व्यापारियों ने अपने बिल पर छपवाया है “कमल का फूल हमारी भूल”. क्या यह संदेश सही है या फिर किसी भाजपा या पीएम मोदी को बदनाम करने की कोशिश ? इसकी पड़ताल की प्रतिष्ठित न्यूज चैनल एबीपी न्यूज ने. एबीपी न्यूज ने इस बिल को लेकर पड़ताल की और जानिए क्या सच आया सामने !

जिस बिल का जिक्र सोशल मीडिया में हो रहा था, उस पर पता अंकित नहीं था. उस पर अंकित बैंक खाते के साथ IFSC कोड अंकित था. इस IFSC कोड से पता लगाने पर पता चला कि ये बैंक अकाउंड गुजरात के सूरत का है.

एबीपी न्यूज की टीम सूरत कपड़ा मार्केट पहुंच गई. वहां उन्होंने कुछ व्यापारियों से इस बिल की बाबत सवाल पूछे तो उन्होंने बताया कि जीएसटी के कारण यहां का कपड़ा व्यापार पूरी तरह से चैपट हो गया है. जितना समय हमारा व्यापार में लगता था, वो पूरा समय कंप्यूटर के रिकार्ड देखने और जीएसटी का रिर्टन भरने मेें जा रहा है. हम अपनी तकलीफ किससे कहें, कोई सुनने वाला नहीं है. सोशल मीडिया पर वायरल बिल पूरी तरह सही है और हमने हीं इसे छपवाया है. व्यापारियों ने कहा कि हम हीं लोगों ने अपने उत्पादों पर अंकित कराया था, “मोदी लाओ देश बचाओ” पर जब से जीएसटी आया और पूरे सूरत शहर का कपड़ा मंडी चैपट हुआ तो हमने बिल पर लिखवा दिया “कमल का फूल हमारी भूल”

यानी कि इस पड़ताल में यह दावा सच साबित हुआ है. व्यापारियों ने जीएसटी की तकलीफों से दुखी होकर अपने बिल पर “कमल का फूल हमारी भूल” प्रिंट कराया है.

5 (100%) 1 vote
सरदार सिमरनजीत सिंह
About सरदार सिमरनजीत सिंह 1095 Articles
जानते तो जरूर होगे मुझे नहीं जानतेे तो कोई बात नहीं अब जान लो........ नाम तो जरूर सुना होगा नहीं सुना तो कोई बात नहीं अब सुन लो..... बिहारी हूं, अपनी धुन में रहता हूं धुन का पक्का नहीं पर मन का सच्चा हूं. पत्रकारिता और लेखन शौक है. बिहार के सासाराम का रहने वाला हूं,

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*