सृजन घोटाले के पीछे सुशील कुमार मोदी, कोर्ट की शरण में जाएंगें

भागलपुर में हुआ सृजन घोटाला 500 और 600 करोड़ का नहीं बल्कि 1000 करोड़ का घोटाला है. बिहार के डिप्टी सीएम और भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने वित्त मंत्री रहते हुए सृजन नामक संस्था से यह घोटाला कराया है. इसकी सीबीआई से जांच होनी चाहिए ताकी सच सामने आ सके. यह कहना है कि राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव का.

सीएम नीतीश कुमार भी तंज कसते हुए लालू ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी इस पर एक्शन लेना चाहिए. सुशील मोदी को बर्खास्त कर पहले हथकड़ी लगा देनी चाहिए फिर केस सीबीआई को सौंप दना चाहिए.

राजद प्रमुख ने कहा कि यह घोटाला पशुपालन घोटाले से भी बड़ा है. वह इस मामले की न्यायिक जांच के लिए न्यायालय का भी दरवाजा खटखटाएंगें और सुशील मोदी को जेल भेजकर दम लेंगें. भ्रष्टाचार में जीरो टाॅलरेंस की बात करने वाले नीतीश के सीएम और सुशील मोदी के वित्त मंत्री रहते यह घोटाला हुआ.

लालू ने कहा कि आश्चर्य का विषय है कि इतनी बड़ी धनराशि को बिहार सरकार जिला प्रशासन के बैंक खाते में भेजती जा रही थी और उसका ट्रांसफर सृजन के बैंक खातों में होता जा रहा था. इस घोटाले में कई मंत्रियों और अधिकारियों का चेहरा बेनकाब होगा. ऐसे कई घोटाले नीतीश के राज में होते रहे हैं.

Rate this post
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here