बिहार में इस साल बनेंगे 50 से ज्यादा ओवरब्रीज सड़क

0
1292

बिहार को इस साल 54 ओवरब्रीज रोड की सौगात मिल सकती है. अगर सबकुछ सरकारी घोषणा के हिसाब से चला तो लम्बे समय से सड़क जाम की समस्या से जूझ रहे दरभंगा शहर के लोगों को सड़क जाम से छुटकारा मिल जाएगी. पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने कहा है कि अगले वित्तीय वर्ष में राज्य सरकार 54 ओवरब्रिज बनाने जा रही है. इसमें दरभंगा शहर के सात ओवरब्रिज शामिल हैं. उन्होंने स्वीकार किया दरभंगा शहर के लिए ओवरब्रिज की योजना पुरानी है लेकिन तकनीकी समस्याओं के वजह से अबतक निर्माण पूरा नहीं किया जा सका है. उन्होंने कहा कि निर्माण के लिए अगले तीन महीने में प्रशासनिक स्वीकृति मिल जाएगी. बताया जा रहा है कि चार साल पहले रेलवे ने आरओबी की स्वीकृति दी थी. लेकिन अबतक निर्माण न होने के कारण नगर के लोगों को काफी परेशानी हो रही है. लोग चौबीस घंटे जाम से परेशान रहते हैं. दरभंगा में ये आरओबी दोनार, यूजियम गुमती, दिल्ली मोड़ के निकट के रेल फाटकों के अलावा अन्य हिस्से में बनेंगे.

आपको बता दें कि बिहार में लोगों को जाम की समस्या से छुटकारा दिलवाने के लिए सरकार के द्वारा सभी सार्थक कदम उठाए जा रहे हैं. हालाँकि यह भी सच है कि भले ही बिहार में सड़कों और ओवरब्रीज का जाल बिछ गया है लेकिन इसके बावजूद लोग जाम से परेशान रहते हैं. अभी हाल ही में कुछ दिनों पहले एक खबर आई थी कि विक्रमशिला सेतु के समानांतर 4 लेन पुल का निर्माण प्रधानमंत्री पैकेज 2015 के तहत किया जाएगा. आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले साल ही इसके निर्माण का शिलान्यास किया है. अगले 3 माह में निविदा की प्रक्रिया पूरी कर कार्य शुरू करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक पुल निर्माण से विक्रमशिला सेतु के ऊपर लगने वाले जाम से मुक्ति मिलेगी.

दरअसल विक्रमशिला पुल पर गाड़ियों का लोड बहुत ज्यादा बढ़ गया है. पुल दो लेन का होने के कारण कहलगांव से लेकर पूर्णिया तक अक्सर जाम लगा रहता है. समानांतर पुल बनने से न केवल जाम से मुक्ति मिलेगी, बल्कि उत्तर बिहार के सीमांचल का झारखंड और पश्चिम बंगाल के साथ सड़क संपर्क बेहतर हो जाएगा. इसका सकारात्मक प्रभाव शहर के व्यवसाय और विकास पर भी पड़ेगा. बता दें कि विक्रमशिला सेतु भारत में पानी पर 5 वां सबसे लंबा पुल है.

कुल मिलाकर देखा जाए तो बिहार में नई सड़क और पुलों के निर्माण कार्य में तेजी लाने के लिए बिहार सरकार प्रयासरत है और सरकार द्वारा तमाम घोषणाएं भी हो रही हैं. हालाँकि अब देखना दिलचस्प होगा कि इन घोषणाओं के अनुरूप कार्य हो पाते हैं या नहीं. अगर सबकुछ सरकारी घोषणाओं के अनुरूप रहा तो बिहार में जल्द ही लोगों को जाम की समस्याओं से छुटकारा मिल सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here