बिहार में बाढ़ः 10 जिले में 6 लाख लोग प्रभावित, कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर

0
449

बिहार में मानसून सक्रिय होने के बाद से लगातार बारिश हो रही है. इस से उत्तरी बिहार में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. बिहार के 10 जिलों की करीब 6.36 लाख आबादी बाढ़ से प्रभावित है और 18,612 लोगों को सुरक्षित ठिकानों तक पहुंचाया गया है. आपदा प्रबंधन विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक प्रदेश के 10 जिलों सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, पूर्वी चम्पारण, पश्चिम चंपारण एवं खगड़िया जिले के 55 प्रखंडों के 282 पंचायतों की करीब 6.36 लाख आबादी बाढ़ से प्रभावित है.

बिहार में बाढ़ के खतरे को देखते हुए NDRF की 21 टीमों को राज्य के विभिन्न संवेदनशील जिलों में तैनात किया गया है. एनडीआरएफ की 9वीं बटालियन के कमान्डेंट विजय सिन्हा ने बताया कि बिहार राज्य आपदा प्रबंधन विभाग की मांग पर एनडीआरएफ की 21 टीमों को प्रदेश के 12 जिलों में तैनात किया गया है.

प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने दरभंगा और मधुबनी जिलों के बाढ प्रभावित इलाकों का बुधवार को दौरा किया. तेजस्वी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यह सरकार की जिम्मेदारी है कि बाढ पीडितों के आवास एवं भोजन की व्यवस्था करे तथा बाढ़ के कारण हुए उनके नुकसान को देखते हुए उनकी आर्थिक मदद करनी चाहिए थी.

तेजस्वी यादव के दरभंगा दौरे को लेकर तंज कसते हुए उन्होंने कहा है कि उन्हें कैग की रिपोर्ट पढ़नी चाहिए, जिसमें खुलासा किया गया है कि बिहार को केंद्र सरकार से मिली बाढ़ सहायता की 90 करोड़ की राशि का फर्जीवाड़ा कैसे हुआ था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here