बिहार NDA में सबकुछ ठीक नहीं, चिराग पासवान ने अपने कार्यकर्ताओं को फिर से कहा तैयार रहने को

0
328

बिहार एनडीए में एक बार फिर से सब कुछ ठीक नहीं दिख रहा है. लोजपा की नाराजगी साफ झलक रही है. सीएम नीतीश कुमार से नाराज चल रहे लोजपा सुप्रीमों चिराग पासवान एक बार फिर से दवाब बनाने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने अपने समर्थकों के साथ बैठक में नीतीश कुमार के चुनाव एजेंडे को खारिज कर दिया है. उन्होने एक बार फिर से अपने समर्थकों को किसी भी परिस्थिति में तैयार रहने को कहा है.

आपको बता दें कि मंगलवार को चिराग पासवान ने अपनी पार्टी के जिला से लेकर प्रदेश स्तर के तमाम नेताओं के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की थी. एलजेपी के सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक इस बैठक में चिराग पासवान ने नीतीश कुमार के रवैये को लेकर सख्त नाराजगी जाहिर की. चिराग पासवान ने अपने समर्थकों को फिर से कहा कि वे किसी परिस्थिति के लिए तैयार रहें. बिहार में गठबंधन का स्वरूप बदल भी सकता है.

दरअसल जदयू इस बार 15 साल बनाम 15 साल के एजेंडों के साथ चुनाव मैदान में उतरने वाली है. चिराग पासवान को इस एजेंडे के साथ सहमती नहीं है. उन्होंने नीतीश कुमार का नाम लिए बिना कहा कि 15 साल बनाम 15 साल का नारा देने वाले बताये कि बाद के 15 साल में क्या हुआ. क्या नली-गली बनाना ही विकास है. अगर बाद के 15 साल में बिहार का विकास हुआ तो शिक्षा के लिए बाहर जाने वाले बिहार के बच्चों की तादाद क्यों लगातार बढ़ती जा रही है.इलाज के लिए बाहर जाने वालों की तादाद क्यों बढती जा रही है. राजस्थान के कोटा जैसे शहर में कई कोचिंग चल रहे हैं. वहां पढ़ने वाले बच्चे बिहारी हैं, टीचर बिहारी हैं और कई कोचिंग संचालक भी बिहारी हैं. फिर वे सब बाहर क्यों चले गये. क्यों नहीं पटना बिहार बन गया.

इस बैठक के दौरान चिराग ने यह भी कहा कि बिहार में अगर गठबंधन चुनाव लड़ेगा तो एजेंडा भी गठबंधन का ही होगा. किसी व्यक्ति विशेष का एजेंडा नहीं चलेगा. चिराग ने कहा कि लोक जनशक्ति पार्टी ने बिहार के विकास के लिए बिहार फर्स्ट-बिहारी फर्स्ट विजन डॉक्यूमेंट तैयार कराया है. लोक जनशक्ति पार्टी के उस एजेंडे को एनडीए के एजेंडे में शामिल करना ही होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here