अमर सिंह का सिंगापुर में निधन, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, PM मोदी समेत बड़े नेताओं ने जताया शोक

0
325

पूर्व समाजवादी नेता अमर सिंह का 64 वर्ष की आयु में निधन हो गया. वे पिछले काफी दिनों से बीमार चल रहे थे. मुलायम सिंह यादव और अमर सिंह काफी करीबियों में एक माना जाता था. कहा जाता था कि पार्टी में नंबर एक और नंबर दो की कुर्सी इन दोनों नेताओं के पास थी. 2010 में उन्होंने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था. अमर सिंह की मृत्यु की खबर के बाद पीएम नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति राम नाथ कोविड, राजधनाथ सिंह समेत बड़े नेताओं ने श्रद्धांजलि अर्पित की है.

देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अमर सिंह को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया, वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद श्री अमर सिंह के निधन के बारे में सुनकर दुख हुआ. उनके परिवार, दोस्तों और शुभचिंतकों के प्रति संवेदना.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि अमर सिंह जी एक ऊर्जावान सार्वजनिक व्यक्ति थे. पिछले कुछ दशकों में, उन्होंने करीबी तिमाहियों से कुछ प्रमुख राजनीतिक घटनाक्रम देखें. वह जीवन के कई क्षेत्रों में अपनी दोस्ती के लिए जाने जाते थे. उनके निधन से दुखी, उनके दोस्तों और परिवार के प्रति संवेदना.’

राजनाथ सिंह ने अमर सिंह को याद करते हुए लिखा है कि ‘वरिष्‍ठ नेता एवं संसद श्री अमर सिंह के निधन के समाचार से दुख की अनुभूति हुई है. सर्वजनिक जीवन के दौरान उनकी सभी दलों में मित्रता थी. स्‍वभाव से विनोदी और हमेशा ऊर्जावान रहने वाले अमर सिंह जी को ईश्‍वर अपने श्रीचरणों में स्‍थान दें. उनके शोकाकुल परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं.

उत्तर प्रदेश में समाजवादियों में मुलायम सिंह के बाद अमर सिंह का नाम आता था. पार्टी में भी नंबर दो की हैसियत से उनकी पहचान थी. पार्टी में किस तरह की गतिविधियां होनी हो इन सभी चीजों की जिम्मेदारी अमर सिंह के पास थी. बताया गया कि समाजवादी पार्टी में जब पार्टी का बागडोर अखिलेश यादव के पास पहुंची तो उसके बाद अमर सिंह का हैसियत वह नहीं रही जो मुलायक के राज में हुआ करता था. उन्हें पार्टी से किनारे कर दिया गया. कहा जाता है कि अमर सिंह पार्टी को पार्टी से जोड़ने का काम करते थे. कार्यकर्ता उन्हें गले लगा लेते थे. एक दूसरे के प्रति उनका प्यार था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here