ये तो गजब हो गया, ट्रेन को जाना था कही और पहुंची कही और जानिए, फिर क्या हुआ?

0
544

रेलवे और रेलवे से जुड़ी हुई कई तरह की घटनाओं के बारे में आपने सुनी होगी. जिसमें ट्रेन पटरी से उतर गई या फिर अपने देश में ट्रेनों की लेट होने की घटना आम होती है. लेकिन जरा सोचिए किसी ट्रेन को जाना हो कही और, और पहुंच जाए कही और तब क्या होगा. होना क्या है ट्रेन में चर्चा शुरू हो जाएगी कि यह ट्रेन जा कहा रही है. लोगों के बीच में अफरा तफरी की स्थिति उत्पन्न हो जाएगी. गुरुवार की सुबह में भी Guwahati to Jammu Tawi जा रही ट्रेन का बीच रास्ते में ही उसका रूट बदल गया. फिर क्या था पूरी ट्रेन में जैसे अफरा तफरी की स्थिति उत्पन्न हो गई. बता दें कि गुवाहाटी से जम्मूतवी जा रही Amarnath Express को दरअसर बिहार में Bachwara Junction से उसे समस्तीपुर की तरफ जाना था लेकिन यह ट्रेन हाजीपुर रूट में चली गई इतना ही नहीं यह ट्रेन करीब तीन किलोमीटर तक आगे बढ़ जिसके बाद इस बात की सुध मिली की यह ट्रेन अपने ट्रैक से भटक चुकी है.

जैसे ही इस बात की जानकारी मिली तो Amarnath Express को चालक ने सबसे पहले ट्रेन को रोका उसके बाद चालक ने जब बछवाड़ा जंक्शन के स्टेशन कार्यालय से संपर्क साधा जिसमें यह बताया कि ट्रेन गलत रूट में चली गई है. दरअसल यह ट्रेन गुरुवार की सुबह में करीब 5 बजे बछवाड़ा जंक्शन के लाइन संख्या-8 से थ्रू में गुजरी थी. हालांकि स्टेशन पर कार्यरत कर्मचारियों ने इस बात का ध्यान नहीं रखा की कि जो ट्रेन यहां से गुजरने वाली है उसका रूट क्या होगा. इसका नतीजा हुआ है कि ट्रेन अपने रूट से भटक गई और 3 किलोमीटर आगे चली गई. ये तो ड्राइवर की सुझबुझ रही की ट्रेन को रोका और फिर स्टेशन से संपर्क कर उसको फिर से वापस किया गया. इस पूरे मामले में दो स्टेशन मास्टर और रेलवे कंट्रोल कर्मियों पर गाज गिर गई है.

बछवाड़ा रेलवे स्टेशन को लेकर जो जानकारी साझा किया जा रहा है उसमें यह बताया जा रहा है कि बछवाड़ा से हाजीपुर रूट के लिए प्लेटफॉर्म नंबर 7 और 8 से ट्रेनें गुजरती है. जबकि बछवाड़ा से समस्तीपुर रूट के लिए रन थ्रू ट्रेन 3 या फिर 4 से गुजरती है. ऐसे में बछवाड़ा जंक्शन पर अमरनाथ एक्सप्रेस को लाइन संख्या 4 की जगह पर 8 से गुजारा गया है जिसके चलते यह ट्रेन समस्तीपुर रूट से भटककर यह हाजीपुर रूट में चली गई. इस कारण ट्रेन बछवाड़ा जंक्शन की पूर्वी गुमटी संख्या-21बी के पॉइंट नंबर 53 से ही गलत रूट में प्रवेश कर गई. फिर लाइन नंबर 8 से उक्त ट्रेन को गुजारते हुए आगे का भी सिग्नल ग्रीन रखा गया था.

इस पूरे मामले को लेकर ट्रेन चालक ने बताया कि उसे इस रूट में गुजरने का कॉशन नहीं मिला था. लिहाजा ट्रेन रोककर उससे स्टेशन मास्टर से संपर्क किया. फिर बाद में उक्त ट्रेन को आगे गुमटी संख्या 1 तक बढ़ाकर फिर गुमटी संख्या 21 बी के समीप सही पॉइंट तक बैक किया गया. फिर समस्तीपुर रूट के रेलवे ट्रैक पर ट्रेन को लाकर गंतव्य के लिए प्रस्थान कराया गया. इस पूरे मामले को लेकर सोनपुर के DRM नील मणि ने बताया कि तत्काल इस मामले में दो ASM को निलंबित किया गया है। पूरे मामले में जांच का आदेश दिया गया है। जांच रिपोर्ट में दोषी पाए जाने वाले अन्य कर्मियों पर भी कार्रवाई होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here