अनंत सिंह दोषी करार, इतने सालों की हुई सजा

0
358

बिहार के बाहुबली नेता और मोकामा विधायक अनंत सिंह को एके 47 मामले में सजा करार हो गई है, जिसके तहत ही आज सुबह सुबह पटना की mp-mla कोर्ट ने उन्हें 10 साल की सजा सुनाई है, कुछ समय पहले ही 14 जून को उन्हें दोषी करार किया गया था. सजा मिलने के बाद अनंत सिंह की विधानसभा की सदस्यता भी अब ख़त्म होने की उम्मीद है, हालांकि उनके वकील सुनील कुमार ने इस बात की जानकारी दे दी है और कहा है कि सजा के फैसले को पटना हाई कोर्ट ने चुनौती दी जाएगी और अपील दायर की जाएगी. अदालत ने अब अनंत सिंह के पैतृक आवास के केयरटेकर को भी 10 साल की सजा सुनाई है.

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दे इस मामले को लेकर सुनवाई स्पीडी ट्रायल के तहत हर दिन यानी 34 महीने तक चली इस काण्ड में विधायक अनंत सिंह को सुप्रीम कोर्ट तक से ज़मानत नहीं मिली थी. 25 अगस्त 2019 से न्यायिक हिरासत में जेल में वो बंद है इस मामले में विधायक और उनके केयर टेकर पर 15 अक्टूबर 2020 में आरोप भी गठित कर दिया है इसके बाद ही अब विशेष लोक अभियोजक ने 13 पुलिस अभियोजन गवाहों को कोर्ट में पेश किया है, इसको लेकर विधायक की तरफ से बचाव पक्ष में 34 गवाह पेश किए गए है. इस अपराधिक काण्ड को बिहार सरकार ने विशेष काण्ड की श्रेणी में रखा है. इस मामले आरोपी के खिलाफ ट्रायल के लिए विशेष लोक अभियोजक को नियुक्त किया गया था। इस कांड का अनुसंधान बाढ़ अनुमंडल की तत्कालीन एएसपी लिपी सिंह ने किया था और विधायक व केयर टेकर के खिलाफ कोर्ट में 5 नवंबर 2019 को चार्जशीट दायर की थी।

अब आइए जानते है यह पूरा मामला था क्या?

16 अगस्त 2019 को पटना पुलिस को मिला सूचना के आधार पर अनंत कुमार सिंह के पैतृक आवास बाढ़ थाना के लदवा गाँव में छापामारी की थी इस दौरान ही विधायक के पुश्तौनी घर से प्रतिबंधित हथियार एके-47, 33 जिंदा कारतूस और दो ग्रेनेड बरामद हुए थे. इस मामले में बाढ़ थानाध्यक्ष सूचक बनकर एफआइआर दर्ज की गई थी. पुलिस ने फरार चल रहे अनंत सिंह की गिरफ्तारी के लिए लुकआउट नोटिस भी जारी किया था जिसके बाद ही विधायक ने दिल्ली के साकेत कोर्ट में अगस्त में सरेंडर किया था। इसके बाद पटना पुलिस उन्हें ट्रांजिट रिमांड पर पटना ले आई थी।आर्म्स एक्ट की 7 धारा, भादवि की दो धारा और दो विस्फोटक अधिनियम के तहत एमपीएमएलए के विशेष कोर्ट ने दोनों आरोपितों के खिलाफ आरोप गठित किया था. वहीं अब सजा सुनाई गई है. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here