केंद्र सरकार से मिली मंजूरी विक्रमशिला पुल के समानांतर बनेगा फोरलेन पुल, इन जिलों को होगा लाभ

0
508

बिहार में विक्रमशिला पुल के समानांतर एक नया फोरलेन पुल की अनुमति मिल गई है. आपको बता दें कि इस फोरलेन पुल के बनने से सबसे पहले को यहां जाम की समस्या से लोगों को निजात मिल जाएगी. केंद्र सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की मंजूरी मिल गई है. पुल निर्माण से संबंधित आने वाले खर्च की राशि की बाधा दूर करते हुए मंत्रालय की विभागीय एक्सपेंडिचर फाइनेंस समिति ने 1116.72 करोड़ रुपये की अनुशंसा करते हुए मंजूरी दे दी है. यह पुल 4.367 किमी लंबा है. इसे चार साल में पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

विक्रमशिला पुल के समानांतर बनने वाले फोरलेन पुल में 68 पाये वाले इस पुल निर्माण में 21.3 हेक्टेयर भूमि की आवश्यकता होगी, जिसमें 2.2 हेक्टेयर सरकारी भूखंड है जबकि 19.1 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण राज्य सरकार अपने कोष से करेगी. इसके लिए जिला प्रशासन को 51 करोड़ रुपये आवंटित कर दिया गया है, इसके साथ ही यह भी कहा गया है कि पुल के नीचे से पानी का जहाज निकल जाए इसके लिए इनलैंड वाटरवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया की आवश्यकता के अनुसार पुल के नीचे के पाए के बीच में स्पेस और ऊंचाई प्रदान किया जाएगा.

नए फोरलेन पुल के बन जाने से खगड़िया, सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया, किशनगंज, अररिया, कटिहार, भागलपुर, बांका सहित झारखंड और बंगाल के रास्ते आने जाने वाले लोगों को सुविधा मिलेगी. डीपीआर में समानांतर पुल का सेप एंड साइज के साथ जाम से निजात दिलाने के लिए अंडरपास और सेपरेटर समेत कई बिंदुओं को शामिल किया गया है.इस सड़क के बन जाने से झारखंड और पश्चिम बंगाल के साथ संपर्क और भी बढ़ जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here