“बाल विवाह” को रोकने के लिए सीएम नीतीश ने बनायी एक नयी योजना

0
405

अन्दलीब अख्तर:Bihari.news Desk : बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अविवाहित लड़कियों के लिए एक नई योजना शुरू की है जिसका उद्देश्य है राज्य में हो रहे बाल विवाह को रोकना। इस योजना को राज्य सरकार ने मंगलवार को मंज़ूरी दे दी है। इसके माध्यम से राज्य में सभी अविवाहित इंटर पास छात्राओं को 10-10 हज़ार रूपए दिए जाएंगे जिससे उन्हें आगे पढ़ने में प्रोत्साहन मिले और साथ ही “बाल विवाह” के खिलाफ बल मिले । राज्य सरकार का मानना है कि जब तक कोई प्रोत्साहन राशि जैसी योजना राज्य में नहीं बनेगी तब तक बाल विवाह प्रथा को नहीं रोका जा सकता।

इस योजना को इसी साल लागू कर दिया गया है जिससे करीब ढाई लाख छात्राओं को इसका लाभ मिल सकता है। इसके अतिरिक्त बिहार सरकार ने साइकिल योजना में भी 500 रूपए का इज़ाफ़ा करते हुए विद्यार्थियों को प्रसन्न कर दिया और वहीँ नौवीं कक्षा के छात्र छात्राओं को मिल रहे ढाई हज़ार की राशि बढ़ा कर पूरे तीन हज़ार रूपए कर दिया गया है। बिहार सरकार अभी तक छात्राओं को जन्म से लेकर स्नातक तक की पढ़ाई पूरी करने के लिए 54100 रूपए तक की राशि देती है।

गौरतलब है कि बिहार के अधिकतर ग्रामीण इलाकों में आज भी बाल विवाह का चलन है। इस कुप्रथा को लेकर सीएम नीतीश कुमार लगातार कई तरह की योजनाए ला रहे है। मंगलवार को हुए बैठक में सीएम नीतीश ने छात्राओं के कल्याण के से सम्बंधित कई कामो को बढ़ावा दे रहे है। इसी वित्त वर्ष में इस योजना को शुरू भी कर दी जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here