बिहार में 30 हजार शिक्षकों की नियुक्ति पर फिर से लगी रोक, शिक्षा विभाग ने जारी किया अधिसूचना

0
400

बिहार के सरकारी माध्यमिक-उच्च माध्यमिक विद्यालयों में छठे चरण के शिक्षक नियोजन की प्रक्रिया में 30 हजार शिक्षकों की नियुक्ति होनी थी जिसे एक बार फिर से रोक दिया गया है. दिव्यांगों द्वारा न्यायलय में दायर एक न्यायादेश के अनुपालन में नियोजन प्रक्रिया को रोका गया है. शिक्षा विभाग ने इसको लेकर अधिसूचना जारी कर दी है.

जारी किए गए अधिसूचना में कहा गया है कि 24 जूलाई को पारित न्यायादेश के अनुपालन में राज्य के उच्च माध्यमिक एवं माध्यमिक शिक्षकों के पद पर छठे चरण के शिक्षकों के नियोजन की कार्रवाई एवं प्रक्रिया को त्ताकल प्रभाव से स्थगित करने की बात कही गई है. इस नियोजन प्रक्रिया को लेकर अनुवर्ती निदेश माननीय न्यायलय के आदेश के अनुरूप अलग से जारी किया जाएगा.

आपको बता दें कि नेशनल फेडरेशन ऑफ ब्लाइंड द्वारा वाद दायर किया गया था जिसमें छठे चरण के नियोजन की प्रक्रिया में दिव्यांगजनों के लिए क्षैतिज आरक्षण के प्रावधान लागू नहीं करने की बात कही गई है. शिक्षा विभाग ने भी इस मामले में प्रतिशपथ पत्र दायर किया था. आपको बता दें कि विभाग को कोर्ट का आदेश 7 अगस्त को प्राप्त हुआ उसके बाद मंगलवार को विभाग ने मामले को संज्ञान लेते हुए नियोजन प्रक्रिया को स्थगित कर दिया.

आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब 30 हजार शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया पर रोक लगाया गया हो. 31 जुलाई को अंतिम बार नियोजन पत्र बांटे जाने की तिथि जारी हुई थी. इसके हिसाब से 25 से 28 अगस्त को निजोन पत्र अंतिम रूप से चयनितों को दिया जाना था लेकिन कोर्ट के आदेश के बाद से इसे फिर से रोक दिया गया है. अब एक बार फिर से इन्हें इंतजार करना पड़ेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here