गोपालगंज जिले के बरौली नगर पंचायत बाढ़ की चपेट में, राहत बचाव कार्य जारी

0
224

गोपालगंज में बाढ़ का खतरा लगातार जारी है. उत्तरी बिहार में करीब 8 लाख लोग बाढ़ की चपेट में आ गए हैं. इधर गोपालगंज जिले के बरोली प्रखंड के 12 पंचायत में बाढ़ का पानी घुस गया है. बरौली नगर पंचायत के सभी वार्ड जलमग्न हो गए हैं.सड़को पर पानी की तेज धारा बह रही है. पानी की धारा इतनी तेज है की यहां सड़कों पर चलना खतरनाक हो चुका है.

पानी की धार इतनी तेज है कि किसी भी गाड़ी के बहने का डर बना हुआ है. यहां लोगों की परेशानी लगातार बढ़ती जा रही है. लोग पहले से ही कोरोना के कारण घऱों में बंद थे अब बाढ़ की चपेट में आने के बाद से घऱों में बंद हो गए हैं. अगर पानी के जलस्तर में और वृद्धि होती है तो लोगों को अपना घर छोड़कर भी जाना पड़ सकता है. बरौली में एनडीआरएफ की 8 बोट को लगाया गया है. एनडीआरएफ की टीम द्वारा अधिकारियों और राहत सामग्री को जरुरतमंदो के बीच पहुंचाया जा रहा है. लोग अपने घरों की छतों पर टकटकी लगाये हुए हैं.

इधर ग्रामीणों को जिला प्रशासन से उम्मीद है कि वे जहां भी फंसे हैं उनकी मदद के लिए अधिकारी और कर्मचारी आएंगे. गोपालगंज के डीएम अरशद अजीज ने बताया कि उन्हें शिकायत की गयी थी कि बरौली का नवादा पंचायत सबसे ज्यादा बाढ़ प्रभावित है. यहां किसी भी तरह की कोई राहत शिविर या कम्युनिटी किचेन का आयोजन नहीं किया गया है. यहां कई फीट सड़कों पर बह रहे पानी में चलने के बाद टीम एनडीआरएफ की बोट से नवादा पहुंची.

डीएम अरशद अजीज यहां नवादा पंचायत भवन पहुंचे. डीएम ने कहा की उन्होंने बरौली के तीन पंचायतों का दौरा किया और वहां चलाये जा रहे राहत शिविर को भी देखा. उन्होंने कहा है कि नवादा पूरी तरह जलमग्न नहीं है. जिले में कई जगहों पर एयरफोर्स द्वारा एयर ड्रॉपिंग भी करायी गयी है उन्होंने यह भी कहा है कि लोगों को प्रशासन द्वारा हर संभव राहत भेजने की कोशिश की जा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here