CM नीतीश कुमार की महत्वाकांक्षी योजना में भारी गड़बड़ी, इन एजेंसियों पर गिर सकती है गाज

0
301

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की महात्वाकांक्षी योजना हर घर नल जल योजना में कोताही बरतने वाले ठेकेदारों और एजेंसियों पर लोक स्वास्थ अभयंत्रण विभाग ने कार्रवाई करने का पूरा मन बना लिया है. विभाग ने अब तक कोताही बरतने वाले करीब दो दर्जन एजेंसियों को निशाने पर लिया है. इन एजेंसियों के बारे में पुछा गया है कि क्यों न आपको काली सूची में डाल दिया जाए.

आपको बता दें कि बिहार लोक स्वास्थ अभियंत्रण विभाग का लक्ष्य था कि 56000 वार्डों में नल का जल पहुंचाना. इसके लिए निश्चित लक्ष्य तय किया गया था 31 मार्च 2020 तक. लेकिन जो रिपोर्ट सामने आई है वह चौंकाने वाली है. इस रिपोर्ट में बताया गया है कि करीब दो दर्जन एजेंसी इस काम को काफी पीछे है. इसकी बजह से हर घऱ नल का जल योजना पर ग्रहण लग सकता है. इसको ध्यान में रखते हुए दो दर्जन कंपनियों को कारण बताओं नोटिस जारी कर दिया गया है.

विभाग के द्वारा जिन एजेंसियों को नोटिस भेजा गया है उसमें टेक्नो इंडिया प्राइवेट लिमिटेड नई दिल्ली, मेसर्स राइट वाटर सोलुशन नागपुर, आंध्र प्रदेश की कंपनी में वेदिस सोलर प्राइवेट लिमिटेड, मैसर्स ब्राइट सोलर प्राइवेट लिमिटेड, प्रीमीयर सोलर सिस्टम तेलंगाना, मैसर्स मेंब्रेन फिल्टर पुणे, एनवायरोटेक इंफ्रास्ट्रक्चर कोलकाता, एनालिटिकल लैब ओखला सूर्या इंटरनेशनल ओडिशा जैसी प्रमुख कंपनिया है जिसको विभाग की तरफ से नोटिस भेजा गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here