बिहार में बा’ढ़ की स्थिति हुई वि’कराल, खोला गया कोसी बराज का 46 फाटक, टूटा 54 साल का रिकॉर्ड….

0
1887

बिहार में लगातार एक सप्ताह से हो रही बारिश से अब बाढ़ आने की संभावना प्रबल हो गई है। कोसी सहित अन्य नदियों के जलस्तर में बेतहाशा वृद्धि दर्ज की जा रही है। बिहार के गोपालगंज जिले में बाढ़ एक तीन मंजिले इमारत धरासायी हो गया।

नेपाल में लगातार मूसलाधार बारिश के कारण सप्तकोशी नदी में पानी का बहाव बढ़ता ही जा रहा है। कोशी बराज के ऑफिसियल फेसबुक पेज से प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार को रात के 9 बजे 3 लाख 38 हजार 890 क्यूसेक रिकॉर्ड किया गया है।

कोसी बराज पर पानी का दबाब खतरे के निशान से ऊपर :

बाढ़ से धरासायी हुए बिल्डिंग

इस वर्ष एक दिन में हुए बारिश ने पिछले 54 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। बताया जा रहा है कि कोशी बराज के 56 फाटक में से 40 फाटक खोल दिया गया है। शाम के बाद भी जलस्तर का बढ़ना लगातार जारी है। पिछले 24 घंटे में बिहार के पूर्वी चंपारण में सर्वाधिक 214.92 mm, सीतामढ़ी में 154.55 mm ताे मुजफ्फरपुर में 125.15 mm बारिश हुई है।

इससे बागमती, गंडक व बूढ़ी गंडक ऊफान पर है। बागमती का जलस्तर लाल निशान को पार कर गया है। मौैसम विभाग ने अगले 24 से 36 घंटे तक नेपाल व उत्तर बिहार में और बारिश की संभावना काे देखते हुए अलर्ट किया है। सीएम नीतीश कुमार के निर्देश पर प्रशासन पूरी तरह अलर्ट मोड में है। कई जिलों में सरकारी अधिकारियों की छुट्टी पर रोक लगा दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here