बिहार में जमीन की हर प्लॉट की होगी अब अलग यूनिक आईडी

0
3303

बिहार(Bihar) में जमीन विवाद को रोकने के लिए सरकार ने नए पहल की शुरुआत करने वाली है. यूनिक आईडी योजना को लागू किया जायेगा जिसमें हर प्लॉट की अलग यूनिक आईडी होगी।
बिहार के राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामनारायण मंडल (Ramnaranyan Mandal) ने बताया है कि बिहार में जमीन की हर प्लॉट को अलग आईडी दी जाएगी। यूनिक आईडी योजना के लागू जो जाने पर जमींन संबंधी मामलों में अधिक पारदर्शिता आएगी और भूमि विवाद, भूमि का हड़प और भ्रष्टाचार पर रोक लग जायेगा। उन्होंने आगे ये बताया है कि अधिकारीयों की बैठक आयोजित की गई जिसमें यूनिक आईडी नंबर जारी किये जाने का बात कहा गया. अब लागू किये जाने वाले यूनिक नंबर के तहत खरीद-बिक्री किये जाने के बाद पहले उस भूमि से जुडी जानकारी का पता किया जाएगा। इस नंबर से जमीन की कितनी बार खरीद-बिक्री की गई, इसकी जानकारी भी प्राप्त हो जाएगी। भविष्य में उत्तर प्रदेश और कर्नाटक की ही तर्ज पर मामूली रकम के भुगतान पर जमीन से जुड़े सारी जानकारी को प्राप्त किया जा सकता है.

विभाग के अपर मुख्य सचिव विवेक कुमार सिंह ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और कर्नाटक (Karnatak) में हुए कार्यो का अध्ययन करने एवं बिहार के लिए ठोस कार्य योजना बनाने के लिए निबंधन विभाग के अफसरों को निर्देश दिया है. हर एक पिलर को यूनिक नंबर दिया जायेगा। बता दें कि बिहार में जमीन के लिए बनने वाले यूनिक आईडी में जमीन का वर्गीकरण एवं जमीन की होल्डिंग भी दर्ज की जाएगी। जमीन का वर्गीकरण एवं जमीन की होल्डिंग की व्यवस्था लागू करने वाला बिहार देश का प्रथम राज्य होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here