आइये, बने उस ऐतिहासिक पल का साक्षी जब बिहार के इस लाल किले पर 56 वर्षों बाद फहराया जाएगा तिरंगा!

0
459

दोस्तों Bihari News ने अपने काफी स्टोरीज में आपको बिहार और उससे जुड़ी धरोहरों से हमेशा रूबरू कराया हैं. जैसा की हम सब जानते हैं की अपना बिहार सभ्यताओं, कलाओं, इतिहासों और सम्प्रदाओं का संगम रहा हैं और आज के इस कड़ी में हम बाद करने जा रहे हैं बिहार के एक ऐसे ही धरोहर के बारे में जो कभी दरभंगा और हमारे बिहार का आन बान और शान हुआ करता था.

दरभंगा का लाल किला

दोस्तों हमारे बिहार में भी एक लाल किला मौजूद हैं जिसे राज किले के नाम से जाना जाता हैं, दरभंगा का यह लाल किला बिलकुल दिल्ली वाले लाल किले की तरह ही दिखता हैं. लाल किले की तरह architecture होने के कारण यह आकर्षण का केंद्र भी हैं और इस नाते यहाँ तिरंगा भी फहराया जाना चाहिए लेकिन अफ़सोस कुछ कमियों के कारण यहाँ 56 वर्षों से तिरंगा नहीं फहराया जा स्का.

लेकिन इस बार इस ऐतिहासिक धरोहर के ऊपर भी भारत माता का तिरंगा झंडा फ़ेहरायेगा और इसको लेकर तैयारियां भी पूरी कर ली गयी हैं और इसकी जानकारी मिथिला स्टूडेंट्स यूनियन के राष्ट्रीय महासचिव, आनंद मोहन झा ने दी. उन्होंने कहा की सन्न 1962 के बाद यहाँ तिरंगा नहीं फेहराया जा सका हैं, कभी बीच में एक व्यक्ति द्वारा ये कोशिश की गयी थी पर उसकी पूरी जानकारी नहीं हैं.

कुछ तीन साल पहले M.S.U ने इसके लिए पूरजोर कोशिश की थी लेकिन असफलता हाथ लगी, दरअसल इसकी ऊंचाई काफी हैं और सीढ़ियों के कमी के कारण इसपे तिरंगा लहराना काफी मुश्किलों भरा होता हैं लेकिन अगर पहले से इसकी तैयारी की जाए तो यह संभव हैं.

दरभंगा महाराज ने 1950 में यहाँ लगाया था तिरंगा झंडा

दरभंगा जी महाराज ने यहाँ सन्न 1950 में दरभंगा का ध्वज हटा कर तिरंगा झंडा फहराया था, इस ऐतिहासिक धरोहर पर आखिरी बार सन्न 1962 में झंडा लहराया और उसके बाद ये सिलसिला रुक सा गया.

नगर निगम रख रखाव कर पाने में असफल

यह धरोहर नगर निगम के ध्यान से दिन पे दिन ख़राब होते जा रहा हैं, बिहार के इस लाल किले और दिल्ली के लाल किले में बस फर्क इतना ही हैं. और तो और यहाँ नगर निगम ने सावधानी का बोर्ड भी लगा रखा हैं की ईमारत पुरानी हैं यहाँ से न गुज़रे।

नगर निगम विफल हैं इससे कोई मतलब नहीं हैं क्यूंकि यह धरोहर हमारा भी हैं और इसकी देखरेख करने की जिम्मेदारी हमारी भी उतनी ही हैं जितनी सरकार की, तो आइये दोस्तों इस स्वतंत्रता दिवस हम सब शपथ लेते हैं की हम अपने इतिहास के सारे धरोहरों की देखरेख में उतना योगदान देंगे जितना एक जिम्मेदार नागरिक को देना चाहिए, जय हिन्द, जय भारत…..

  • 196
  •  
  •  
  •  
  •  
    196
    Shares
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here