बिहार का सपना होगा पूरा अब पटना में भी दौड़ेंगी मेट्रो ..

0
241

बिहारी न्यूज़ डेस्क : संशोधित डीपीआर को कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद मेट्रो का सपना सच होने वाला है।संशोधित डीपीआर को केंद्र की सैद्धांतिक सहमति के लिए बुधवार को ही भारत सरकार के शहरी विकास मंत्रालय, नीति आयोग और वित्त मंत्रालय को भेज दिया जायेगा। इस प्रस्ताव को मंजूरी को एक से दो महीने में मिलने की उम्मीद है।

इस पुरे प्रोजेक्ट में 17887 करोड़ रूपये का अनुमान लाया जा रहा है। जिसमे 7437.48 करोड़ रूपये राज्य सरकार ख़र्च करेंगी। इसके साथ ही 7837.56 करोड़ रुपये का कर्ज एडीबी, जीका या बाहरी स्रोतों से कर्ज के तौर पर लिया जायेगा. केंद्र सरकार इस पुरे प्रोजेक्ट में सिर्फ़ 2612.52 करोड़ ही खर्च करेंगी। इस पुरे प्रोजेक्ट को 5 साल में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

कैबिनेट से मंजूरी मिलते ही नवगठित पटना मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (पीएमआरसी) अपना काम शुरू कर देगा।राज्य सरकार ही एमडी की नियुक्ति करेगी। इस काम के लिए जॉइंट एसपीवी का गठन होगा जो मेट्रो रेल पॉलिसी के अनुसार है।जिसमें चेयरमैन भारत सरकार के जबकि एमडी बिहार सरकार के नॉमिनी होंगे. इस प्रोजेक्ट में 5 नये केंद्रीय निदेशक भी जुड़ेंगे।

पहले चरण में नॉर्थ साउथ कॉरिडोर पर काम शुरू होगा और फिर ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर में। इन दोनों कॉरिडोर की कुल लम्बाई 31.39 किमी होगी। जिसमे कुल 24 मेट्रो स्टेशन होंगे। इसमें 15.38 किमी का भाग एलिवेटेड यानि सड़क के ऊपर होगा , जबकि 15.75 किमी भाग अंडरग्राउंड रहेगा. 12 मेट्रो स्टेशन एलिवेटेड और 11 स्टेशन अंडरग्राउंड जबकि एक सड़क के बराबर होगा।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here