बिहार बना नंबर वन, विकास दर में सभी राज्यों को पछाड़ा…

0
1168

बिहार एक बार फिर देश में सबसे ज्यादा तेज गति से विकास करने वाला राज्य बन गया है. बिहार ने वर्ष 2007-08 से लगातार राजस्व अधिशेष वाले राज्य का दर्जा बरक़रार रखा है. बिहार की विकास दर 2017-18 के वित्तीय वर्ष में 11.3 प्रतिशत रही जो अन्य राज्यों के मुकाबले सबसे अधिक है. पिछले वित्तीय वर्ष में बिहार की विकास दर 9.9 प्रतिशत रही थी. विकास दर में बढ़ोतरी बिहार के बेहतर वित्तीय प्रबंधन का सूचक है.

सोमवार से शुरू हुए बिहार के बजट सत्र के पहले दिन उपमुख्यमंत्री व् वित् मंत्री सुशील कुमार मोदी ने विधानमंडल के दोनों सदनों में 2018-19 की आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट पेश की. सुशील मोदी ने इस दौरान बताया कि बिहार की विकास दर 11.3 प्रतिशत रही जो की राष्ट्रीय विकास दर 7 प्रतिशत से काफी आगे रही.

उपमुख्यमंत्री ने आगे कहा कि बिहार के विकास दर की वृद्धि का मतलब यह है कि हमारी पूंजी में बढ़ोतरी हुई है जिसका इस्तेमाल हमलोग बिहार के मुलभुत संरचनाओं के विकास पर खर्च करेंगे. उन्होंने आगे बताया कि आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट से यह बात भी सामने आई है कि बिहार में प्रतिव्यक्ति आय में बढ़ोतरी हुई है. पहले बिहार की प्रतिव्यक्ति आय 28 हजार 580 रुपये थी जो अब बढ़कर 31 हजार 316 रुपये हो चुकी है. इसमें करीब 11 प्रतिशत की ग्रोथ हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here