रसोई गैस के लिए मची है अफरा-तफरी, 15 -20 दिनों बाद हो पा रही है आपूर्ति

0
330

पर्व के मौसम की वजह से गैस सिलेंडर का खपत बढ़ चुका है. लोगों की भीड़ लगी है। ऑर्डर किये जाने के बावजूद भी 12-15 दिनों तक आपूर्ति नहीं की जा रही है। एक तरफ मांग बढ़ चुकी है और दूसरी तरफ गैस की आपूर्ति को 20 से 30 फीसदी तक काम किया जा रहा है। कुछ जिलों में तो लोग विरोध भी कर रहे हैं.
सबसे अधिक आपूर्ति की समस्या उत्तर बिहार में देखने को मिला है। मुजफ्फरपुर के शिव लोक गैस एजेंसी के अनुसार दस से बीस फीसदी तक आपूर्ति को काम किया जा रहा है। दरभंगा, मोतिहारी, समस्तीपुर और मुजफ्फरपुर में इसकी समस्या बढ़ी हुई है। वहीँ पूर्वी बिहार में स्थिति ठीक-ठाक है, लेकिन कुछ जिलों में यहाँ भी परेशानी बनी है। लखीसराय और जमुई जिले में गैस की आपूर्ति नहीं हो सकने की वजह से लोंगो की भीड़ पड़ रही है.

गैस एजेंसी संचालक की मानें तो दो माह पूर्व की अपेक्षा मौजूदा समय में आपूर्ति आधी हो गयी है। लखीसराय और मधेपुरा का भी कमोवेश वही हाल है. नवादा जिले में तो 1 लाख उपभोक्ताओं में इस समस्या से रोष व्याप्त है। लोगों की स्थिति दयनीय हो रही है। गैस के लिए चक्कर काट रहे एक व्यक्ति सड़क दुर्घ’टना में जान से हाथ धो बैठा वहीँ एक महिला गश्त खाकर गिर पड़ी. गोपालगंज में इस समस्या की वजह से होम डिलिवरी को बंद कर दिया गया है।
खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री मदन सहनी ने आश्वासन दिया है कि अभी लोगों को 10 से 12 दिनों में गैस सिलेंडरों की आपूर्ति हो रही है। गैस कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की गई. कंपनियों को आपूर्ति बढ़ाने के लिए भी कहा गया. कंपनियों के द्वारा आश्वासन दिया गया है कि दो चार दिनों में आपूर्ति बढ़ा दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here