बाढ़ से त्राहिमाम हुआ बिहार

बिहार में बाढ़ का प्रकोप बढता जा रहा है। स्थानीय नदियों के जलस्तर में लगातार वृद्धि हो रही है। नेपाल में हो रही लगातार बारिश से कोसी, महानन्दा, कमला बलान, बागमती आदि नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही है और अपना रौद्र रूप दिखा रही है।

सारण जिले में गंडक नदी अपने उफान पर है। नेपाल की ओर से 4.5 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद हालात चिंताजनक होते जा रहे हैं। पिछले 24 घण्टे में जलस्तर में 35 सेंटीमीटर की वृद्धि हुई है।

बाढ़ को देखते हुए राज्य सरकार के सभी मंत्रालयों को अलर्ट कर दिया गया है। कई जगहों पर डॉक्टर्स और स्वास्थ्यकर्मियों की टीम भेजी जा रही है तो तटबंधों की सुरक्षा के लिए अभियंताओं और होमगार्ड्स के जवानों को लगा दिया गया है। आपदा प्रबंधन विभाग भी लगतार ज़िला प्रशासन के सम्पर्क में है।

बाढ़ की वजह से रेलवे परिचालन भी बुरी तरह चरमरा गया है। पूर्व उत्तर सीमांत रेलवे  के जोगबनी कटिहार और बारसोई कटिहार रेल ट्रैक पर पानी चढ़ने की वजह से करीब 17 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है और कई ट्रेनों के रूट बदल दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here