आकाशीय बिजली गिरने से 6 जिलों से 12 लोगो ने गंवाई जान, अगले 72 घंटे तक बिहार के 11 जिलों में अलर्ट

0
3456

बिहार में मानसून की दस्तक के बाद से बारिश (Rain in Bihar) का दौर लगातार जारी है. राजधानी पटना समेत कई जिलों में लगातार बारिश हो रही है. इस बीच मौसम विभाग ने उत्तर और मध्य बिहार के अधिकतर जिलों खास कर नेपाल से सटे क्षेत्रो में अगले 72 घंटे तक आकाशीय बिजली गिरने भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. मिली जानकारी के अनुसार नेपाल में अगले 72 घंटे यानि 3 दिनों तक भारी बारिश के अनुमान है. साथ ही नेपाल से सटे उत्तर और मध्य बिहार के लगभग 11 जिलों में भी इसका व्यापक असर पर सकता है. नेपाल में बारिश का सीधा असर बिहार में इसलिए भी पर सकता है क्यों की नेपाल से बिहार में आने वाली नदियां पहले से ही उफान पर है ऐसे में 3 दिनों तक होने वाली बारिश से यह और ज्यादा विकराल रूप ले सकती है जिससे बिहार के कई क्षेत्रों में जान-माल की क्षति होने की आशंका है.

मौसम विभाग ने 8 जुलाई को बिहार में संभावित बाढ़ के संबंध में चेतावनी जारी की है और अधिकारियों को स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने के लिए आगाह किया है. मौसम विभाग ने पत्र लिख कर बिहार सरकार और आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव को इस संबंध में अलर्ट किया है. मौसम विभाग ने पत्र में बताया है कि हिमालय की तलहटी में मॉनसून ट्रफ के उत्तर की ओर शिफ्ट होने के कारण सिनॉप्टिक स्थिति और मार्गदर्शन के रूप में न्यूमेरिकल वेदर प्रेडिक्शन मॉडल के विश्लेषण के आधार पर, भारत और नेपाल सीमा के आस-पास के इलाकों में 9 जुलाई से 12 जुलाई के बीच बारिश की गतिविधि बढ़ने की संभावना है. ऐसे में किशनगंज, अररिया, कटिहार, पूर्णिया, सुपौल, मधुबनी, सीतामढ़ी, दरभंगा, पूर्व और पश्चिम चंपारण और शिवहर में अलग-अलग इलाकों में भारी बारिश होगी. यह मॉडल बाद में पूर्वी उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ेगा. वहीं ने यह भी बताया है की 17 जुलाई से पूरे राज्य में बारिश होने की संभावना थोड़ी कम हो जाएगी.

मौसम विभाग द्वारा अलर्ट जारी करने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने संबंधित सभी जिलों को महाअलर्ट पर रहने को कहा है. सबंधित जगहों पर NDRF की टीम अलर्ट पर है. साथ ही जिला प्रशासन ने भी स्थानीय स्तर पर तैयारियां की है ताकि जाल-माल की कम से कम हानि हो. साथ ही बारिश के बाद होने वाले जल-जमाव से निपटने प्रशासन के लिए सबसे ज्यादा चुनौती पूर्ण हो सकता है.

आपको बता दे की आज 8 जुलाई को 6 जिलों में 12 लोगो की जान आकाशीय बिजली गिरने से चली गयी है जिसमे बेगूसराय में सात तथा भागलपुर, मुंगेर, कैमूर, जमुई और गया में एक-एक व्यक्ति की जान गयी है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इन 12 लोगों की हुई मौत पर दुख जताया है. उन्होंने कहा है कि आपदा की इस घड़ी में वे प्रभावित परिवारों के साथ हैं. साथ ही सीएम ने अविलंब मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रूपये अनुग्रह अनुदान देने के निर्देश दिया है.
नितीश कुमार ने लोगों से अपील की है कि सभी खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें. खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिये आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किये गये सुझावों का अनुपालन करें. खराब मौसम में घरों में रहें और सुरक्षित रहें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here