राजधानी पटना समेत प्रदेश के इन जिलों में बारिश वज्रपात को लेकर अलर्ट जारी

0
261

बिहार में Monsoon Active हो गया है. पटना मौसम केंद्र की तरफ से जारी अपडेट के अनुसार प्रदेश के लगभग जिलों में बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग की तरफ से जारी अपडेट के अनुसार यह बताया गया है कि उत्तर बिहार में मध्यम स्तर की बारिश होने की संभावना है. पटना में गुरुवार कोrain thunderstorm alert जारी किया गया है. मौसम विभाग की तरफ से जारी अपडेट के अनुसार यह बताया गया है कि सीतामढ़ी, शिवहर, मधुबनी, अररिया, किशनगंज और सुपौल में भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है. बता दें कि मौसम विभाग की तरफ से लोगों को सावधानी बरतने को कहा गया है.

मौसम विभाग की तरफ से जारी अपडेट के अनुसार यह बताया जा रहा है प्रदेश के ज्यादातर जिलों में बारिश के साथ तेज हवाएं चलने की बात कही जा रही है. अनेक स्तानों पर वज्रपात होने की संभावना जताई गई है. मौसम विभाग की तरफ से जारी अपडेट के अनुसार छः से आठ जिलों में भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है. मौसम विभाग की तरफ से जारी अपडेट के अनुसार दरभंगा, पूर्णिया, कटिहार, सहरसा, मधेपुरा, वैशाली, मुजफ्फरपुर और समस्तीपुर में शामिल हैं. विभाग की तरफ से यह भी बताया गया है कि दक्षिण पश्चिम, दक्षिण मध्य, उत्तर पूर्व और उत्तर पश्चिम बिहार के 24 जिलों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना जताई गई है. विभाग की माने तो गुरुवार कोPatna, Jehanabad, Gaya, Nawada, Sheikhpura, Begusarai, Lakhisarai, Aurangabad, Kaimur, Rohtas, Buxar, Bhojpur, Arwal, Bhagalpur, Jamui, Banka, Munger, Khagaria, West Champaran, East Champaran, Gopalganj, Siwan and Saran में बारिश होने की संभावना जताई गई है. साथ ही इन जिलों में काले बादल छाए रहने की भी संभावना जताई गई है.

पिछले कुछ दिनों से हो रही बारिश के बाद से प्रदेश के कई जिलों में तापमान में कमी देखी गई है. विभाग की तरफ से जारी अपडेट के अनुसार रोहता में 40 डिग्री तापमान दर्ज किया गया है तो वहीं बक्सर में 38 डिग्री और शेखपुरा, सीतामढ़ी में 37 डिग्री से अधिक तापमान दर्ज किया गया है. विभाग की माने तो एक ट्रफ लाइन उत्तर पश्चिम राजस्थान से उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी तक हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, गंगिया पश्चिम बंगाल, से होकर समुद्र तल से 0.9 किलोमीटर ऊपर से गुजर रहा है. साथ ही एक चक्रवातीय परिसंचरण का क्षेत्र पूर्वी उत्तर प्रदेश और उसके आसपास के इलाकों में समुद्र तल से 10.9 किलोमीटर ऊपर बना हुआ है.

इन दिनों एक और चक्रवाती परिसंचरण का क्षेत्र पूर्वी झारखंड और उससे सटे उत्तरी ओडिशा के क्षेत्र में समुद्र तल से 1.5 किलोमीटर और 5.8 किलोमीटर के बीच बना हुआ है. इसके प्रभाव से उत्तर बिहार के सभी जिलों में बारिश और दक्षिण बिहार में भी हल्की या मध्यम स्तर की बारिश होने की संभावना ऐसे में पूरे बिहार में बारिश होने की स्थिति बनी हुई है. बिहार में एक तरफ जहां मानसून एक्टिव हो तो वहीं दूसरी तरफ कम दवाब का क्षेत्र भी बना हुआ है. उत्तर बिहार की कई नदियां इन दिनों उफान पर हैं. नेपाल में हो रही बारिश और उत्तर बिहार में हो रही बारिश की वजह से उत्तर बिहार की कई नदियां उफान पर हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here