फोर्ब्स प्रतियोगिता में सफलता हासिल करने वाले एकमात्र भारतीय, बिहार के सुमंत परिमल बने टॉपर

0
1042

बिहार की प्रतिभाएँ अब विभिन्न देशों एक आकर्षण का केंद्र बन गई है. न केवल विदेशों में बल्कि कई देशों की प्रतियोगिताों में बिहार टॉप पर अपना स्थान कायम किया है.

200 देशों और 2000 से भी अधिक विद्द्यार्थियों के लिए आयोजित की गई प्रतियोगिता में स्कॉलिस्टिक एप्टीट्यूड टेस्ट (Scholastic Aptitude Test) में कटिहार के रिवम राज ने पहला स्थान प्राप्त किया है। पत्रिका फोर्ब्स के द्वारा आईटी प्रोफेशनल और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) विशेषज्ञों की परीक्षा करवाई गई थी जिसमें अब पटना के सुमंत परिमल (Sumant Parimal) ने शीर्ष स्थान प्राप्त किया है। इतना ही नहीं वे इस प्रतियोगिता में सफलता प्राप्त करने वाले एकमात्र भारतीय बन गए हैं.

बता दें कि यह परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की गई थी। जिसका आयोजन दो माह तक किया गया था। इस प्रतियोगिता में ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, एशिया और , यूरोप के दिग्गज आईटी और एआई विशेषज्ञों को पछाड़ दिया है. उनकी रेटिंग ऊँची रही है और फोर्ब्स में उन्हें शीर्ष स्थान दिया है.

क्या है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस
आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मशीनों द्वारा अभिव्यक्त किया गया बुद्धिमत्ता है. कृत्रिम बुद्धि ऐसा संयत्र है जो अपने वातावरण के देखकर अपने लक्ष्य प्राप्ति की कोशिस करता है. मशीन इंसानों की तरह उनकी बुद्धि और कार्यों का नक़ल कर सकता है.

सुमंत पटना के राजा बाजार के रहने वाले हैं और उन्होंने मैसूर यूनिवर्सिटी से एम.टेक किया है. वे एमबीए जेवियर लेबर रिसर्च इंस्टीट्यूट स्कूल ऑफ मैनेजमेंट (XLRI), जमशेदपुर से पूरा किया है. बता दें कि वे कई वर्षों तक बोकारो स्टील प्लांट में अधिकारी भी रह चुके हैं. इसके अलावा उन्होंने अमेरिका में पांच वर्षों तक शोध कार्य भी किया है. वे ‘5 ज्वेल्स रिसर्च’ नामक पानी आईटी कंपनी बना चुके हैं यह कम्पनी भारत में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और रोबोटिक्स टेक्नोलॉजी के विकास पर कार्य करती है. बता दें कि ग्रेटर नोएडा में रोबोटिक टेक्नोलॉजी पार्क की स्थापना किये जाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के ही साथ सुमंत परिमल ने भी करार किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here