बिहार: ट्रक मालिकों ने आज रात से किया, आंदोलन करने का ऐलान

0
999

मंगलवार को आधी रात से राज्य में तर्कों का परिचालन रुक जायेगा। 22 अक्टूबर को बिहार ट्रक ओनर एसोसिएशन ने रात के 12 बजे से चक्का जाम आंदोलन करने का ऐलान किया है. विकास आयुक्त के साथ हुई बैठक में बात नहीं बनने के बाद एसोसिएशन ने आंदोलन कारण की घोषणा कर दी है.
बिहार ट्रक ओनर एसोसिएशन के अध्यक्ष भानु शेखर सिंह(Shekhar Sinh) के अनुसार सोमवार को बैठक बुलाया गया था. मुख्य सचिव की जगह विकास आयुक्त के साथ बातचीत हुई. जिसमें हमारी कुछ ही मांगों को सुना गया लेकिन कोई निर्णय नहीं लिया गया. सरकार के इस रवैया के खिलाफ एसोसिएशन के द्वारा आंदोलन किये जाने का ऐलान कर दिया है. मंगलवार की मध्य रात्रि से राज्य के तमाम ट्रक को रोक दिया जायेगा। पूरे राज्य भर में अनिश्चितकालीन चक्का जाम होगा। ट्रक मालिक एकजूट होंगे और पूरी तरह यह आंदोलन सफल होगा। बता दें कि बिहार में ट्रकों की संख्या 5.5 लाख के करीब है।

अध्यक्ष भानु शेखर सिंह ने जानकारी दी है कि एसोसिएशन की 14 सूत्री मांगें हैं। इसमें प्रमुख रूप से जुर्माने को लेकर माँग की गई है। जुर्माने को लेकर नए कानून को राज्य सरकार वापस ले। कई राज्यों ने ऐसा किया भी है, अतः बिहार को भी ऐसा किया जाना चाहिए। इसके अतिरिक्त वीर कुंवर सिंह सेतु को आरा की तरफ से छपरा जाने के लिए वन-वे करना और उत्तर बिहार से खाली ट्रकों को जेपी व गांधी सेतु होते हुए लौटने की व्यवस्था करने की भी मांग की गई है। फिटनेस फेल होने पर रोजाना 50 रुपए का दंड और 200 प्रतिशत रोड टैक्स को भी कम करने की मांगें की गई है, जो प्रमुख हैं। इसके साथ ही साथ राजेन्द्र सेतु को ट्रकों के लिए जल्द चालू करने, माइनिंग चालान की समय सीमा को समाप्त करने समेत कुल 14 मांगों को शामिल किया गया है। जिसके लिए आंदोलन किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here