बिहारी पहचान 68: पटना का ‘ईशान’ आज दे रहा धोनी और कोहली को भी मात, जानिये उनके बारे में कुछ खास

0
3391

यूँ तो बिहार की धरती से अनेकों रत्नो ने जन्म लिया है ,सबने अपने कर्म और हुनर से सिर्फ बिहार ही नहीं वरन विश्वभर में भी बिहार का नाम रौशन किया है। बिहारी पहचान के इस श्रेणी में आज हम बात करेंगे बिहार के तेजी से उभर रहे युवा क्रिकेटर ईशान किशन के बारे में ,जिन्होंने बेहद कम समय में क्रिकेट की दुनिया में अपनी एक अलग पहचान बना ली है। ईशान किशन ने महज 20 वर्ष की उम्र में वो कीर्तिमान स्थापित कर रहे है जो बड़े बड़े क्रिकेटर नहीं कर पाए।

पटना के है ईशान
बेहद प्रतिभावान क्रिकेटर ईशान किशन मूल रूप से बिहार की राजधानी पटना के रहने वाले है। ईशान किशन का जन्म 18 जुलाई 1998 को पटना में हुआ यहां। उनके पिता प्रणव पांडे पेशे से बिल्डर है। ईशान के बड़े भाई राज ने ईशान को क्रिकेट खेलने के लिए प्रेरित किया। ईशान किशन की दिलचस्पी क्रिकेट में शुरू से था परन्तु बिहार क्रिकेट एसोसिएशन और बीसीसीआई के बीच के मुद्दे और राजनीति के कारण ईशान ने पडोसी राज्य झारखंड से खेलना प्रारम्भ कर दिया। ईशान किशन के खेल से प्रभावित होकर उन्हें दिसंबर 2015 में अंडर-19 विश्वकप 2016 के लिए चयन किया गया. इस टूर्नामेंट में ईशान को कप्तान के रूप में चुना गया। ईशान एक बाएं हाथ के बल्लेबाज और विकेटकीपर है. ईशान किशन पूर्व कप्तान और विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी और आस्ट्रेलिया के विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट को अपना आदर्श मानते है।

ईशान किशन का कैरियर
ईशान किशन ने अपनी प्राथिमिक क्रिकेट झारखंड के घरेलु टीम के तरफ से खेला। वर्ष 2015 में ईशान का चयन बांग्लादेश में हुए अंडर -19 विश्वकप के लिए हुआ जिसमे उन्हें कप्तान बनाया गया। ईशान किशन का चयन वर्ष 2016-2017 आईपीएल में गुजरात लॉयन्स के लिए हुआ और उन्होंने गुजरात के तरफ से खेलना शुरू किया। 2018 के आईपीएल में ईशान किशन का चयन मुंबई इंडियन्स के लिए हुआ। ईशान किशन अभी इंडियन प्रीमियम लीग में मुंबई इंडियंस के तरफ से खेल रहे है।

अभी हाल ही में ईशान किशन ने आईपीएल 2018 के एक मैच के दौरान कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ अंधाधुंध खेलते हुए महज 17 गेंदों में 50 रन बनाया। ईशान किशन ने वर्ष 2016 में रणजी टूर्नामेंट में झारखंड के तरफ से खेलते हुए दिल्ली के खिलाफ सबसे ज्यादा 273 रन बनाया था ,जो कि झारखंड के तरफ से बनाया हुआ पहला सर्वाधिक व्यक्तिगत उच्चतम स्कोर था। ईशान लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रहे है ,जिसकी तारीफ़ उनके आलोचक भी करने लगे है।

ईशान किशन की कहानी, जानिए bihari.news की जुबानी

  • 1.1K
  •  
  •  
  •  
  •  
    1.1K
    Shares
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here