मुफ्त वैक्सीन वितरण पर घिरी भाजपा, क्या इससे पहले पैसे कमाने किस सोच रही थी सरकार !

0
229

बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारी अपने जोरों पर है। एनडीए जहाँ बिहार के विकास को मुद्दा बना रहा है वहीँ बिहार की खामियों को लेकर विपक्ष हमलावर है . महागठबंधन जहाँ सत्ता हासिल करने के बाद बिहार के विकास के मुद्दों की सूची जनता के सामने रखता नजर आया वहीँ एनडीए राजद के शासनकाल में हुए भयावह बिहार की तस्वीर पेश करते हुए नजर आये. महागठबंधन मौजूदा बिहार को कहीं अधिक विकसित बनाये जाने की उम्मीद जनता में जगा रहे हैं तो जदयू बिहार के मानचित्र पर राजद के 15 वर्षों के शासनकाल को अपने भाषण में चलचित्र की तरह दिखा रहे हैं. एक मायने में वे साफ कह रहे हैं कि अगर जनता राजद पर भरोसा करती है तो फिर पांच सालों तक बिहार की स्थिति क्या हो सकती है !

राजनितिक मोर्चेबंदी के इस उफान में एक सीढ़ी और वृद्धि हुई है और पार्टियों के द्वारा जनता के सामने अगले पांच सालों में किये जाने वाले कार्य का वादा किया जा रहा है। इस दौरान भाजपा ने बिहार में कोरोना की दवा मुफ्त में दिए जाने का एलान किया है. जिसके बाद से भाजपा सरकार केंद्र और राज्य दोनों जगह घिर गई है. बिहार में जहाँ विपक्ष पार्टी भाजपा के इस वादे पर तीखे बयान दे रही है वहीँ कांग्रेस और शिवसेना ने भी भाजपा के वादे पर तीखी प्रतिक्रिया दी है.

शिवसेना के संजय राउत ने कहा है कि जब हम बच्चे थे तो एक नारा था , तुम मुझे खून दो मै तुम्हें आजादी दूंगा। अब एक घोषणा हुई है जो मै देख रहा हूँ तुम मुझे वोट दो और हम तुम्हें वैक्सीन देंगे। इससे आगे संजय राउत ने प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा पर जोरदार हमला बोला है। संजय राउत ने कहा है कि पहले जाति और धर्म के नाम पर बांटा करते थे और अब वैक्सीन के नाम पर बाँट रहे हैं. आपको बता दें कि यह मामला चुनाव आयोग तक पहुंच गया है. इससे पहले केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि कोरोना के महाकाल में स्वस्थ सेवा को महत्वपूर्व प्राथमिकता बनाई जानी चाहिए और बिहार में हमारी सरकार बन रही है, कोरोना वैक्सीन जब बनेगी तो बिहार सरकार केंद्र सरकार के साथ सहयोग करेगी और फिर बिहार के कोरोना पीड़ित लोगो को वैक्सीन फ्री में दिया जायेगा।

वहीँ राहुल गाँधी ने वव्यंग कसते हुए कहा है कि सरकार ने वैक्सीन की घोषणा कर दी है और यह जानने के लिए कि वैक्सीन राज्य को कब मिलेगी , कृपया चुनाव की तारीखों को देख लें. बता दें कि बिहार में तेजस्वी यादव और राहुल गाँधी एक साथ मंच संचालन कर रहे हैं। तेजस्वी ने भी भाजपा के इस वादे पर भाजपा को घेरा है और सवाल किया है कि भाजपा मुफ्त में वैक्सीन दिए जाने की घोषणा की है तो क्या इससे पहले वह इस वैक्सीन से कमाने की सोच रही थी. यह कहते हुए तेजस्वी ने कहा है हद है बेशर्मी की.
चुनावी माहौल में इस ऑफर से ताबरतोड़ हमले से भाजपा घिर गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here