NDA में जीतन राम मांझी के शामिल होने पर BJP सांसद ने जताई नाराजगी, कहा- कोई फायदा नहीं होगा

0
299

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीति तेज हो गई है. राजनेताओं का एक दल से दूसरे दल में आना जाना तेज हो गया है. ऐसे में जीतन राम मांझी ने एक बार फिर से घर वापसी की है. और वे बिहार एनडीए के साथी हो गए हैं. NDA में मांझी के आने के बाद से एनडीए में विरोध के स्वर निकलने लगे हैं. बीजेपी के पूर्व सांसद ने विरोध जताया है. उन्होंने कहा है कि इससे बिहार एनडीए को कोई फायदा नहीं होने वाला है. हां लेकिन उनके परिवार को जरूरत फायदा होगा.

बीजेपी सांसद हरि मांझी ने कहा है कि अपने बेटे को एमएलसी बनाने के बाद जीतन राम मांझी ने महागठबंधन छोड़ दिया है. और अब खुद विधानपार्षद बनन के लिए एनडीए के साथ आए हैं. उन्होंने आगे बोलते हुए कहा कि पिछले दो लोकसबा चुनाव में जीतन राम मांझी बुरी तरह से हारे हैं. इसीलिए उनको मांजी समाज का नेता मानना सही नहीं है. हरि मांझी ने आगे बोलते हुए कहा कि जीतन राम मांजी एनडीए में वापस भाजपा और जदयू कार्यकर्ता की हकमारी करने के लिए आए हैं. वो अगर मुसहर समाज के सच्चे नेता होते तो उनको पार्टी के दफ्तर में मुसहर भाइयों को सम्मान मिलता.

NDA में शामिल होने के बाद मांझी ने कहा कि हमारी पार्टी का जदयू के साथ पार्टनर के रूप में अलायंस हुआ है. न कि किसी ढंग का कोई मर्जर. सीटों के सावल पर बोलते हुए उन्होंने नीतीश कुमार के की तारीफ में कसीदे पढ़ने लगे. उन्होने कहा कि नीतीश कुमार के साथ हमारा पुराना संबंध है. उन्होंने कहा कि गठबंधन में बिना शर्त शामिल हुआ हूं. सीट कितनी मिलेगी यह जदयू और हम मिलकर तय कर लेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here