गिरिराज को पार्टी की नसीहत, गठबंधन विरोधी बयानबाजी से करे परहेज़

0
572

पिछले कुछ दिनों से भाजपा और जदयू के बीच की तकरार सबको दिखाई दे रही थी. खासकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह आये दिन मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर तंज कसते नज़र आते थे. आरोप प्रत्यारोप का दौर ऐसा चला की कयास लगाये जाने लगे कि शायद अब भाजपा-जदयू गठबंधन में टूट पड़नी शुरू हो चुकी है. एक ओर जहाँ बिहार महागठबंधन टुट कर बिखर गया था वही कुछ मंत्रियों के बयानबाजी से वहीं मंज़र भाजप-जदयू के बीच दिखाई देने की उम्मीद जताई जा रही थी.


लेकिन अब भाजपा नेतृत्व, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के बेलगाम बयानबाजी पर लगाम लगाने की कोशिश कर रहा है. भाजपा के जे पी नड्डा ने गिरिराज सिंह से गठबंधन विरोधी बयानबाजी करने से परहेज़ करने ही नसिहत देते हुए कहा है कि गिरिराज अपने काम पर ध्यान दे और अपनी ज़िम्मेदारी निभाएं. इस बाबत जे पी नड्डा ने गिरिराज से फ़ोन पर बात भी की थी.

आपको बता दे आए दिन गिरिराज सिंह ट्वीट के जरिए और मीडिया में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ बयान देकर लगातार सुर्खियों में बने रहते है. अक्सर गिरिराज नितीश सरकार पर इलज़ाम लगते दिखाई देते है. हाल ही में बिहार में भारी बारिश की वजह से पटना में हुए जलजमाव को लेकर भी उन्होंने बिहार सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि पटना में हुए जलजमाव की जिम्मेदारी खुद मुख्यमंत्री को लेनी चाहिए.

इतना ही नहीं गिरिराज ने तो अपनी पार्टी के नेताओं के नेताओ को भी नहीं बक्शा. बारिश के कारण लोगों को हुई परेशानी के लिए गिरिराज ने जनता से माफी मांगी थी और कहा था कि माननीय मुख्यमंत्री नीतीश और सुशील मोदी को भी जनता से माफी मांगनी चाहिए. साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा था की अगर नितीश कुमार इस बात की ज़िम्मेदारी लेते है की उन्होंने पिछले 15 सालों में बिहार में उन्नति की है तो बिहार की ऐसी स्थिति के लिए भी नितीश को ही जवाबदेही करनी चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here