भाई ने रिक्शा चला कर बहन को पढ़ाया, अब बनेगी डिप्टी कलेक्टर

0
1221

हम सब ने वो कहाबत तो जरूर सुनी होगी. जिसमें कहा गया है कि महनेत एक न एक दिन रंग लाती है. आज मेहन के बदौलत एक भाई ने अपना फर्ज निभाया और उनकी बहन ने भी उनका बखुबी खुब साथ दिया दिया और वह अधिकारी बनने जा रही है. महाराष्ट्र पब्लिक सर्विस कमीशन में महिला टॉपर्स की लिस्ट में तीसरा स्थान पाने वाली वसीमा शेख अब डिप्टी कलेक्टर बनेंगी. फिलहाल वह सेल टैक्स के पद पर कार्य कर रही है. वसीमा ने अपनी पढ़ाई के लिए कई तकलीफें झेली हैं.

वसीमा के परिवार की स्थिति बहुत अच्छी नहीं थी. पिता मानसिक रूप से बीमार है. वहीं मां दूसरों के खेत में काम करके घर चलाती है. और वसीमा का भाई पैसों की कमी के चलते पढ़ाई छोड़ कर रिक्शा चलाता है. आपको बता दें कि वशीमा का भाई भी एमपीएससी की तैयारी करता था. लेकिन परिवार की स्थिति को देखते हुए उसने पढ़ाई छोड़ घऱ के काम काज में हाथ बटाने लग गया. वसीमा का भाई घऱ में पैसा नहीं होने के कारण परीक्षा नहीं दे पाया था उसके बाद से उसकी पढ़ाई रुक गई.

अब वसीमा शेख ने बताया कि मैंने अपने आसपास, परिवार में और अपने इलाके में गरीबी और तकलीफ को बहुत पास से देखा है. एक तरफ सरकार और उसके साधन थे, दूसरी तरफ गरीब जनता. बीच में एक मीडिएटर की जरूरत थी, मैं वही मीडिएटर बनना चाहती हूं.

स्त्रोतः-https://www.bhaskar.com/entertainment/news/actor-govinda-son-yashwardhan-car-accident-in-mumbai-127442956.html?art=next

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here