राजधानी पटना में अगले माह से दौड़ेगी 75 नई सीएनजी बसें, बीएसआरटीसी ने वेंडर एजेंसी से मंगवाई 25 एसी और 50 नॉन एसी बसें

0
461

राजधानी पटना में अगले महीने तक बिहार राज्य पथ परिवहन निगम के द्वारा 75 नई सीएनजी बसें चलाने की तैयारी की जा रही है. बता दे कि इन 75 नई सीएनजी बसों में से 25 एसी और 50 नॉन एसी सीएनजी बसें शामिल रहेंगी. जानकारी के अनुसार अगले माह के मध्य तक वेंडर एजेंसी के द्वारा इन बसों की आपूर्ति कर दी जाएगी और माह के अंत तक इसका परिचालन भी शुरु हो जायेगा. 75 नई सीएनजी बसों का परिचालन शुरु करने के बाद बीएसआरटीसी के द्वारा अपनी सिटी बसों के काफिले से 46 डीजल बसों को बाहर कर दी जाएगी. बाहर किये जाने वाले बसों में 30 बसें इन दिनों पटना से बिहारशरीफ और हाजीपुर रूट में चल रही हैं जबकि बचें 16 बस राजधानी पटना में ही चल रही है.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि वर्तमान में सिटी बस सेवा में कूल 116 बसें चलाई जा रही है, जिनमें 70 सीएनजी बसें है. इन 70 सीएनजी बसों में से 50 नई सीएनजी बसें है तो वहीं बची 20 सीएनजी बसें पुराननि डीजल बसें है जिनमें सीएनजी किट को लगा कर कन्वर्ट कर दी गयी है.

जानकारी के मुताबिक, राजधानी पटना को प्रदूषणमुक्त बनाने के लिए 23 इलेक्ट्रिक बसें चलाई जा रही है जो कि पटना साहिब और फुलवारी एम्स से लेकर आइआइटी बिहटा के इलाके चलाई जाती है. इसके अंतर्गत करीब 50 डीजल बसों को बाहर किया जा रहा है जिसके लिए बसों के मालिकों को 7.30 लाख रुपये भी दिए जा रहे हैऔर उनकी जगह सीएनजी बसें लाई जा रही है. हालांकि इनमें से साड़ी बसें बिना एसी के होंगी. बता दे कि राखी के मौके पर 15 हजार महिलाएं बीएसआरटीसी की बसों में नि:शुल्क यात्रा की थी. बीएसआरटीसी के द्वारा भाई को राखी बाँधने वाली बहनों के लिए ये छुट दी गयी थी.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here