LJP और JDU आमने सामने, चिराग ने कहा, जो मैं मांग करता हूं सुझाव देता हूं उसको आलोचना मानना भूल

0
115

लोजपा और जदयू के बीच में आपसी तकरार कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है. दोनों तरफ से बयानबाजी जारी है. शुक्रवार की शाम को लोजपा सुप्रीमो चिराग पासवान पहुंचे उनके पटना पहुंचे के साथ ही कई अटके लगाई जान लगी है. इधर सुत्रोंकी माने तो शनिवार को झंडोत्तोलन के बाद चिराग पासवान पार्टी के प्रमुख नेताओं की बैठक बुला ली है. उन्होंने खुद राज्यकारिणी के वरीय साथियों को बैठक में शामिल होने की बात कही है.

बताया जा रहा है कि इस बैठक की सूचना मीडिया में नहीं देने की बात कही गई है. पार्टी द्वारा अचानक से बुलाए गए इस बैठक को लेकर की तरह की अटकले लगाई जा रही है. चिराग पासवान चुनाव को लेकर कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं. आपको बता दें कि वे कई बार इस बात को दोहरा चुके हैं कि जरूरत पड़ी थो पार्टी अकेले चुनाव लड़ने के लिए सक्षम है.

पार्टी कार्यालय में आज प्रदेश अध्यक्ष प्रिंस पासवान को झंत्तोलन करना था. लेकिन अब चिराग के पटना आने के बाद से झंत्तोतोलन चिराग पासवान करेंगे. इससे पहले पटना हवाई अड्डे पर मीडिया से बात करते हुए उन्होने कहा कि ललन सिंह हमारे अभिभावक है हम उनके बारे में कुछ नहीं बोलेंगे. उन्होने कहा कि पत्र के माध्यम से जो मैं मांग करता हूं या सुक्षाव देता हूं उसकी आलोचना मानना सरकार की भूल है. फिर भी अगर कोई सुक्षाव को आलोचना मानकर उसपर कार्यवाई नहीं करे तो मैं क्या कर सकता हूं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here