क्या CM नीतीश मंगल पांडे से ले सकते हैं इस्तीफा ?

0
364

बिहार में चमकी बुखार (AES) से हो रही मृत्यु के आंकड़ों में थोड़ी-सी कमी आई है। वहीँ इस मुद्दे पर राजनीती परवान चढ़ने लगी है। विपक्ष के प्रहारों के बीच अब बिहार सरकार के भीतर भी खींचतान की खबरें सामने आ रही हैं। ख़बरों के अनुसार ये पता चला है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे से त्यागपत्र मांग रहे हैं। वैसे भाजपा पार्टी ने ये साफ़ संकेत दे दिया है कि वो त्यागपत्र नहीं देंगे। इससे जाहिर है कि भाजपा-जदयू के बीच बड़ा राजनीतिक मामला बन सकता है।

त्यागपत्र की मांग पर अड़ी JDU

प्राप्त हुई खबर के मुताबिक, सीएम नीतीश नैतिकता के आधार पर मंगल पांडे से त्यागपत्र सौंपने का दबाव बना रहे हैं। दरअसल, सीएम नीतीश का मानना है कि चमकी बुखार (AES) से हुई बच्चों की मृत्यु के मामले पर बुरी तरह घिर चुकी बिहार सरकार को इस त्यागपत्र से थोड़ी राहत प्राप्त हो सकती है। मुख्यमंत्री का ये मानना है कि चमकी बुखार (AES) का मसला मुख्यमंत्री से ज्यादा सम्बंधित स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी थी, और ये मंगल पांडे के ही जिम्मे है।

BJP खड़ी है मंगल पांडे के साथ

उधर, भाजपा के नेतागण इसे कोरी सियासत बता रहे हैं। पार्टी के ये मानना है कि यह मामला आज का नहीं है, ये प्रत्येक वर्ष होता है। इसके लिए लंबे समय की नीति बनानी होगी, जो बिहार सरकार को करना चाहिए। इससे ये जाहिर होता है कि आरोप-प्रत्यारोप के बीच इसी मामले पर दोनों दलों के बीच लकीरें खींची हुई हैं।

मंगल पांडे हैं बिहार BJP का बड़ा चेहरा

बिहार भाजपा के कद्दावर नेता मंगल पांडे माने जाते हैं। डिप्टी सीएम सुशील मोदी के नजदीकी होने के साथ राष्ट्रीय स्तर पर उनकी पहचान एक मजबूत आयोजक की भी है। बिहार के भाजपा के प्रमुख रहते हुए उन्होंने पार्टी को विस्तार दिया था। इसी तरह वो झारखण्ड तथा हिमाचल प्रदेश के चुनावी प्रभावी रहे तथा पार्टी को उन्होंने दोनों ही जगहों पर कामयाबी दिलाई थी।

तो सीएम नीतीश क्या जबरन त्यागपत्र लेंगे ?

ख़बरों के मुताबिक, सीएम नीतीश ने इतना तक बोल दिया है कि अभी वो त्यागपत्र दे दें, बाद में उन्हें एडजस्ट कर लिया जाएगा। वैसे, भाजपा पार्टी अपने इस कद्दावर नेता की साख पर किसी तरह से आघात नहीं आने देना चाहती है। जाहिर है ऐसे में प्रश्न खड़ा हो रहा है कि क्या नीतीश कुमार अपने ही मंत्री से जबरन त्यागपत्र लेंगे ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here