CM नीतीश समेत बिहार के इन नेताओं की होली रहेगी फिकी

0
303

बिहार में होली की बात होते ही लोगों के दिलो दिमाग में एक बात सामने आती है. लालू यादव की होली. लालू यादव की होली में मीडिया की सबसे ज्यादा हिस्सेदारी होती थी. आज हर कोई लालू यादव के कुर्ता फाड़ होली को मिस करता है. इस साल बिहार समेत देश के कई राज्यों में होली नहीं मनाने को लेकर बात कही जा रही है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी होली नहीं मनाने की बात कही है. इनके साथ ही बिहार के कई अन्य नेताओं ने भी बिहार में होनी नहीं मनाएंगे.

सीएम नीतीश कुमार की होली के बारे में बताया जाता है कि इनकी होली सागदी भरी होली होती है. होली के दिन शाम को वे अपने कार्यकर्ताओं के साथ अपने सरकार के मंत्रियों के साथ एक साथ बैठते थे गुलाल अबीर लगाते थे. एक दूसरे के साथ प्रेम स्नेह के साथ होली मनाते थे. कोरोना वायरस को लेकर सीएम नीतीश कुमार ने पहले से ही अपने सभी कार्यक्रमो को रद्द कर दिया है. इसको लेकर एडवाइजरी भी जारी कर दी गई है.

विश्व समेत देश में कोरोना वायरस को लेकर लोग काफी सतर्क हो गए हैं. ऐसे में बिहार में होली को लेकर बिहार में कई कार्यक्रम रद्द कर दिए गए हैं. इधर बिहार के राजनेताओं ने होली समारोह को रद्द कर दिया है. जदयू की ओर से प्रदेश अध्यक्ष और सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह होली के दौरान दिल्ली मे रहेंगे. वहीं सासंद आरसीपी सिंह अस्थावां के मुस्तफापुर के अपने सांग मालती में ही होली में रहेंगे. रविवार की सुबह ही वे गांव प्रस्तान कर गए.

इधर बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने भी होली मिलन समारोह को रद्द कर दिया है. बिहार में किसी भी सामुहिक समारोह में वे भाग नहीं लेंगे. वे इस बार अनपे परिवार के साथ होली मनाने के लिए बंगलूरु चले गए हैं. जहां उनके बेटे रहते हैं. वे इस बार होली में सपरिवार बंगलूरु में ही रहेंगे. बताया जा रहा है कि होली सप्ताह खत्म होने के बाद वे बिहार आएंगे तब बिहार विधानसभा का सदन भी शुरु हो जाएगा.

इधर होली को लेकर बिहार शिक्षा विभाग ने भी होली मनाने से मना कर दिया है. उन्होंने यह फैसला नियोजित शिक्षकों के हड़ताल पर जाने के बाद लिया है. उन्होंने रविवार को बताया कि शिक्षक हमारे विभागीय परिवार के अभिन्न हिस्सा हैं. जब वे होली नहीं मना रहे तो मैं कैसे यह पर्व मना सकता हूं. वर्मा ने कहा कि वे एकबार फिर शिक्षकों से अपील कर रहे हैं कि वे हड़ताल तोड़कर काम पर लौटें.

इधर शिक्षा मंत्री को होली नहीं मनाने की बात सामने आई है तो वहीं बिहार सरकार के शिक्षकों के द्वारा भी एक बड़ा फैसला सामने आया है. बिहार राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव मंडल की हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया कि माध्यमिक शिक्षक भी यह पर्व नहीं मनाएंगे. प्रारंभिक शिक्षकों के संगठन ने दो दिन पूर्व ही होली नहीं मनाने का फैसला किया था. रविवार को माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव मंडल की बैठक के बाद महासचिव शत्रुघ्न प्रसाद सिंह ने इसमें लिए गए निर्णयों की जानकारी दी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here