बिहार में आज से 30 मिनट में आएगी कोरोना कि रिपोर्ट, सभी जिलों में भेजा गया रैपिड एंटीजन किट

0
213

बिहार समेत पूरे देश में कोरोना का कहर लगातार जारी है. ऐसे में कोरोना जांच को लेकर अच्छी खबर सामने आई है. बिहार में अब आधे घंटे में कोरोना की रिपोर्ट जा जाएगी. जिससे अब कोरोना संक्रमित लोगों की पड़ताल करना आसान हो जाएगा. इससे कम से कम संक्रमण की चपेट में भी आएंगे. आईसीएमआर से अनुमति मिलने के बाद बिहार के सभी जिलों में आज से ही रैपिड एंटीजन किट से कोरोना की जांच शुरू हो रही है जिसको लेकर सभी जिलों को किट उपलब्ध करा दिया गया है.

इस पूरे मामले को लेकर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा है कि इस किट से राज्य के सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर जांच होगी जहां मरीजों को स्वाब देने की प्रक्रिया से गुजरना होगा. फिलहाल मोबाइल वैन घूम घूमकर जांच नहीं करेगी. मंत्री ने भरोसा जताते हुए कहा कि इससे जांच की क्षमता भी बढ़ेगी और लोगों के समय की भी बचत होगी इसीलिए किट की कमी नहीं होने दी जाएगी.

आपको बता दें कि इस किट को लेकर 1 जुलाई को ही संबंधित लैब टेकनीशियन को निर्देश दिए जा चुके हैं. इस किट से जांच के लिए आईसीएमआर ने राज्य के मुख्य सचिव को एक जुलाई को ही पत्र लिखा था जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने सभी डीएम और सिविल सर्जन को रैपिड एंटीजन किट से जांच शुरू कराने का निर्देश दिया था और किट दिल्ली से पटना पहुंचते ही जांच की प्रक्रिया शुरू हो गई है. रैपिड एंटीजन किट उपलब्ध कराने के लिए बतौर एजेंसी का भी चयन कर लिया गया है और बीएमएसआईसीएल के माध्यम से सभी जिलों को किट की जरूरत पड़ते ही उपलब्ध करा दिए जाएंगे.

कोरिया द्वारा निर्मित इस किट की पहले दिल्ली और उसके बाद मुंबई में जांच की गई है. उसके बाद इसे बिहार में इसकी शुरुआत की गई है. किट दक्षिण कोरियाई कंपनी का है और कंपनी का उत्पादन ईकाई गुरुग्राम के बगल में मानेसर में हैं. एक्सपर्ट्स की मानें तो इस किट से एक दिन में हजारों सैंपलों की जांच हो सकती है और इसके बाद दूसरे मशीनों से क्रॉस चेक करने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी. राज्य में फिलहाल सभी बड़े जांच केंद्रों में आरटी पीसीआर मशीन से जांच हो रही है और सैंपल लेने से लेकर जांच रिपोर्ट आने तक 24 से 48 घंटे तक समय लग जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here