नल जल योजना मे गड़बड़ी करने वाले 158 मुखिया पर गिरेगी गाज

0
1004

बिहार मे आए दिन  नल जल योजना मे भ्रष्टाचार और गड़बड़ी का मसला कोई नयी बात नहीं है। भले ही सरकार इसके क्रियान्वयन मे तेजी ला रही है और शिकायत मिलने पर कड़ी कानूनी कार्रवाई भी करती है मगर फिर भी भ्रष्टचरियों की मिली भगत से इस योजना का सही रूप से लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है।इसी क्रम मे पटना प्रमंडल मे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की महत्वाकांक्षी योजना हर घर नल का जल योजना मे बड़ी गड़बड़ी पायी गयी है। जिसके बाद 158 मुखिया और पंचायत प्रतिनिधियों पर कारवाई की जाएगी। इसमे सबसे अधिक रोहतास के 97 मुखिया को दोषी पाया गया है। पटना प्रमंडल प्रशासन की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार गड़बड़ी करने वालों मे पटना जिले के 25 , नालंदा जिले के 19, भोजपुर जिले के 8, बक्सर जिले के 17 और रोहतास जिले के 97 मुखिया शामिल हैं। इसके अलावे गड़बड़ी के मामले मे इन सभी जिलों से 78 पंचायत प्रतिनिधियों पर भी प्राथमिकी दर्ज की गयी है, जबकि 35 अधिकारी और सरकारी कर्मचारी भी इस मामले मे दोषी पाये गए हैं। जानकारी के मुताबिक इन सभी जिलों मे डीएम व अन्य अधिकारियों ने औचक निरीक्षण किया और नल जल योजना की जांच कराई गयी। जांच मे बड़ी गड़बड़ी सामने आई जिसके तहत 337 लाख रुपए की हेराफेरी का मामला सामने आया है। यह राशि नल जल योजना के लिए थी जिसका पंचायत प्रतिनिधियों ने दुरुपयोग किया। आपको बता दे कि औचक निरीक्षण में पाया गया कि ज्यादातर ग्रामीण इलाकों में नलजल का गुणवत्ता युक्त काम नहीं किया गया है। कई जगहों पर काम अधूरा है मगर पैसे की निकासी कर ली गयी है। कहीं पानी की टंकी को ऐसे ही छोड़ दिया गया तो कहीं बोरिंग कराने के बाद पाइप ही नहीं बिछाया गया।इससे नलजल योजना का लाभ ग्रामीणों को नहीं मिल पा रहा है। इस मामले मे प्रमंडलीय प्रशासन द्वारा कार्रवाई कर पंचायत प्रतिनिधियों से 337 लाख की वसूली की जाएगी,वहीं इन सभी आरोपियों पर प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here