कोरोना के इलाज के लिए DCGI ने दूसरी दवा को दी मंजूरी, बहुत जल्द बाजार में आएगा इंजेक्शन

0
459

कोरोना की रफ्तार देश में लगातार बढ़ रहा है. देश में एक दिन में 15 हजार से ज्यादा कोरोना से संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है. अब तक देश में 4 लाख से ज्यादा कोरोना मरीजों की पुष्टि हो चुकी है. ऐेसे में एक अच्छी खबर सामने आई है जिसमें बताया गया है कि कोरोना के इलाज के लिए भारतीय औषधि महानियंत्रक की अनुमति मिल गई है. हेटेरो ने बयान में कहा कि कंपनी को DCGI से रेमडेसिवीर के विनिर्माण और विपणन की अनुमति मिल गई है.

कोरोना के इलाज के लिए रेमडेसिवीर के जेनेरिक संसकरण की भारत में ब्रिक्री कोविफोर ब्रांड नाम से की जाएगी. बयान में यह भी बताया गया है DCGI ने बालिगों और बच्चों में संदिग्ध या पुष्ट कोरोना के मामलों या फिर इसके संक्रमण की वजह से अस्पताल में भर्ती लोगों के इलाज के लिए इस दवा की अनुमति दि गई है. कंपनी ने कहा है कि भारत में कोविड-19 के मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा है.

हेटेरो ग्रुप ऑफ कंपनीज के चेयरमैन बी पार्थ सराधी रेड्डी ने कहा, ‘‘हम यह सुनिश्चित करेंगे कि यह उत्पाद जल्द देशभर के मरीजों को उपलब्ध हो सके.’’ उन्होंने कहा कि कंपनी मौजूदा जरूरत को पूरा करने के लिए पर्याप्त स्टॉक सुनिश्चित करेगी. यह दवा 100 mg की शीशी (इंजेक्शन) के रूप में उपलब्ध होगी. इस उत्पाद को भारतीय बाजार में गिलेड साइंसेज इंक के साथ लाइसेंसिंग करार के तहत उतारा जा रहा है.

आपको बता दें कि इस दवा से पहले भी शुक्रवार को ग्लेनमार्क ने माइल्ड नाम की दवा लॉच की थी. इस दवा की मंजूरी शुक्रवार को मिल चुकी है. ग्नलेनमर्का ने FabiFlu नाम की इस दवा की कीमत 103 रुपये प्रति टैबलेट रखी है. FabiFlu कोविड-19 की इलाज के लिए मंजूरी प्राप्त करने वाली पहली Favipiravir दवा है. इस दवा का इस्तेमाल पहले दिन डॉक्टर्स की सलाह पर 1,800 mg दो बार किया जा सकता है. इसके बाद अगले 14 दिन तक 800 mg का डोज़ (FabiFlu Dose) दिन में दो बार दिया जाएगा.

स्त्रोतः-https://hindi.news18.com/news/business/hetero-pharma-company-launches-drug-for-covid-19-pateints-after-fabiflu-by-glenmark-3157426.html

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here