लॉकडाउन पर डीजीपी का बयान : सटल त गइले बेटा

बिहार में फिर से लॉकडाउन लगा दिया है. इस नए लॉकडाउन का स्वरुप कैसा होगा ? क्या ये पहले की तरह ही होगा या फिर कुछ नए नियम इसमें शामिल किए गए हैं. लॉकडाउन को सफलता से लागू करने के लिए सबसे बड़ी भूमिका पुलिस की होगी, इससे कोई इंकार नहीं कर सकता है. इसी बीच लॉकडाउन को लेकर बिहार के तेजतर्रार डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की अपील वीडियो की शक्ल में सोशल मीडिया पर आ गई है, जिसमें वो भोजपुरी भाषा में अपनी बात कहते नजर आ रहे हैं.

Simranjeet Singh ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಬುಧವಾರ, ಜುಲೈ 15, 2020

सटल त गइले बेटा

इस वीडियो में भोजपुरी भाषा की मिठास के साथ डीजीपी कह रहे हैं, बिहार के बचावे के बा. रउवा सब के सेवक, रउवा सब के भाई. रउवा सब के बेटा. डीजीपी ने कहा कि कोरोना कोई मामूली बीमारी नहीं है. उन्होंने एक कहावत कहते हुए कहा कि सटल त गइले बेटा, वही हाल है. सब लोगों को अपने घर में रहना है, परिवार के साथ रहना है. समय बुरा है, कट जाएगा. 15 दिन की बात है. अकबकाना नहीं है. कोशिश करना है कि बिना वजह नहीं निकलें. निकलना जरुरी हो तो मास्क लगाकर निकलें.

किसी से झगड़ा नहीं करना है

इसी के साथ डीजीपी ने कहा कि बिहार को बचाने के लिए कोरोना का बाउंस बैक हुआ है. बिहार को बचाने में हिंदू भाई, मुसलमान भाई, गरीब, अमीर सब का सहयोग चाहिए. याद रखना है कि लॉकडाउन का पालन कराने वाले किसी भी पुलिसकर्मी से लड़ाई, झगड़ा नहीं करना है, किसी भी डॉक्टर से नहीं उलझना है.

भोजपुरी भाषा में डीजीपी की इस अपील को सोशल मीडिया पर खूब देखा और सुना जा रहा है और जम कर शेयर भी किया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here