DLED के लिए होगा अब सीधा नामांकन

0
202

कोरोना ने पूरी दुनिया पर एक अलग ही प्रभाव डाला है जिन लोगो ने कोरोना के कारण जान गवाई है या जिन लोगो के किसी परिजन की जान कोरोना के कारण गई है उनकी जिंदगी दोबारा से पटरी पर नहीं आ पायेगी ऐसा ही कुछ हाल शिक्षा व्यवस्था का भी, आम लोगो की जिंदगी के साथ साथ इस बीमारी ने छात्रों के जीवन से पढ़ाई को ही अलग कर दिया है इतना ही नहीं इस बीमारी के कारण अब छात्रों में अव्वल आने और शिखर पर पहुँचने की लालसा को भी कहीं पीछे धकेल दिया है, जिन परीक्षाओं के लिए हमने और अपने महीनो और सालों मेहनत की हो आज इन परीक्षाओं का कोई मोल नहीं है आज के समय के छात्रों को बगेर पढ़े ही औने पौने नंबर से संतुष्ट होने पड़ रहा है. 10वी, 12वी परीक्षा के बाद अब dled के प्रवेश परीक्षाओं पर भी ग्रहण लग गया है शिक्षा विभाग की तरफ से मिली जानकारी के अनुसार बिहार से सभी राजकीय और अराजकीय मान्यता ट्रेनिंग कॉलेजों में मौजूदा सत्र में दो वर्षीय dled कोर्स में बिना संयुक्त प्रवेश परीक्षा के ही नामांकन किया जायेगा यानी अब मार्क्स के 2021-23 में भी अंकों के आधार पर नामांकन लिए जायेंगे, विभाग का कहना है कि कोरोना महामारी से उत्पन्न हुए हालत और अन्य कारणों को ध्यान में रखते हुए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की तरफ से अब तक संयुक्त प्रवेश परीक्षा नहीं ली जा सकी है इसमें वैसी ही देरी हो गई है, इसीलिए कोर्स को शुरू करने में और देरी करना उचित नहीं है.

शोध एव प्रशिक्षण निदेशक डॉ विनोदानंद झा की माने तो साल 2021-23 सत्र के लिए अगस्त में नामांकन केलिन्डर निकालने का काम किया जायेगा. कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए आवेदन से लेकर चयन तक की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी. वहीं प्रक्रिया से जुडी और जानकारी देखे तो आवेदन शुल्क 100 रूपए रखा गया है, इसके साथ ही विद्यार्थियों के अंको के आधार पर सम्बंधित कॉलेजों के द्वारा विद्यार्थियों की मेधा सूची तैयार की जाएगी. इसी सूची के आधार पर नामांकन किया जायेगा, दूसरी तरफ शिक्षा विभाग ने यह साफ़ किया है कि राज्य के ncte से मान्यता प्राप्त और बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से संबंद्धता प्राप्त dled कोर्स संचालित करने वाले राजकीय और अराजकीय प्रशिक्षण महाविद्यालयों संस्थानों में नामांकन के लिए व्यवस्था की गई है.

गौरतलब हो की यह लगातार तीसरा साल है जब dled की प्रवेश परीक्षा का आयोजन नहीं हो पाया है, विभाग की तमाम कोशिशे बेकार रही. हालांकि पिछले तीन सालो से छात्रों ने dled परीक्षा में शामिल होने के लिए फॉर्म भरा है और अब तक पिछले साल की ही फॉर्म की राशि छात्रों के अकाउंट में नहीं गई थी हालांकि इस बाबत शिक्षा विभाग ने यह साफ किया है पिछले वर्ष डीएलएड अभ्यर्थियों से प्रवेश परीक्षा के नाम पर ली गई राशि लौटाई जाएगी।वहीं दूसरी तरफ dled करने वाले छात्रों के मन में संतोष है की इस बार भी परीक्षा का आयोजन नहीं किया जा रहा है और छात्रों का नामांकन सीधा हो रहा है,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here