पेट दर्द से परेशान था बच्चा, ऑ-परेशन के उसे बाद देखकर डॉक्टर भी रह गए हैरान, जानिए क्या था

0
320

राजधानी पटना में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुन कर आप हैरान रह जाएंगे. पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान(IGIMS) में एक 14 वर्षिय बच्चे दीपक कुमार के पेट की स-र्जरी हुई जिसमें स-र्जरी के दौरान उसके पेट से एक गांठ निकली. जिसमें दांत और बाल के गुच्छे निकले हैं. जिसे देखकर डॉक्टर हैरान रह गए.

आपको बता दें कि दीपक पिछले छः महिने से पेट दर्द से परेशान था. और परिजन बच्चे को दिखाने के लिए डॉक्टरों के चक्कर काट रहे थे. लेकिन इस बि-मारी का पता नहीं चल पा रहा था. परिजनों को किसी ने सलाह दिया कि वे एक बार इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान के गैस्ट्रो विभाग में बच्चे की जांच कराए. उसके बाद परिजनों ने बच्चे को लेकर अस्पताल पहुंचे जहां उन्होंने डॉ. साकेत कुमार के परीक्षण किया और पाया कि बच्चे के पेट में काफी गहराई में एक गांठ है. जो दाहिने गुर्दे में घुसा हुआ है. लेकिन डॉक्टरों ने कहा कि ऑ-परेशन में खतरा है, लेकिन ऑ-परेशन करना जरूरी है. डॉक्टर की सलाह के बाद परिजनों के हां कहने पर डॉक्टर मनीष मंडल के नेतृत्व में डॉक्टर साकेत और अन्य डॉक्टरों की टीम ने म-रीज का ऑपरेशन किया.

ऑ-परेशन करने के बाद बच्चे के पेट से एक गांठ निकाली गई. गांठ में दांत और बाल के गुच्छे देखकर डॉक्टर भी हैरान रह गए. बच्चे के गांठ को देखने के बाद विभागाध्यक्ष डॉक्टर मनीष मंडल ने बताया कि इस बीमारी को टेराटोमा या डरमोआएड सिस्ट करते हैं और ये अऩुवांशिक होता है.

राजद में चल रहे आपसी घमासान के बीच पप्पू यादव ने ये कह कर ली चुटकी

विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉक्टर साकेत कुमार ने बताया कि दीपक की जांच में दाहिने गुर्दे के इस सिस्ट के बारे में पता चला था और ऑ-परेशन के बाद सिस्ट में 20-25 दांत, हड्डी और बाल के गुच्छे मिले हैं. उन्होंने कहा कि यह बी-मारी अजीब सी होती है. दुनिया में अभी तक इसके केवल 20 मामले सामने आये हैं. साकेत कुमार ने बताया म-रीज ऑपरेशन के बाद स्वस्थ है और जल्द ही उसे छुट्टी दे दी जायेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here