बड़ी खबर : पहली बार मोदी सरकार में डॉलर पहुँचा 75 रूपये के पार

0
356

विश्व में कोरोना वाइरस के वजह से आर्थिक मंडी चल रही है. आर्थिक मंडी के वजह से अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय बाजार में भी मंदी अब दिख रही है। अमेरिकी डॉलर की तुलना में रूपये के रिकॉर्ड में गिरावट दर्ज की गई है.

डॉलर की तुलना में रुपया 74. 24 अपने पिछले रिकॉर्ड की तुलना में नीचे गिरा है और यह 75 पर पहुंच गया है. अन्य एशियाई मुद्राओं की तुलना में डॉलर की कीमत बढ़ गई है.

अब तक दिन में 74.96 पर खुलने के बाद रुपया अमेरिकी डॉलर के तुलना में 74.77 से 75.02 के बीच पहुंच गया है. इसने अमेरिकी मुद्रा मुकाबले रूपये के निम्नतम स्तर को दर्शाया है.

इस वर्ष बुधवार को जारी 71.36 रूपये के बाद 4.06 प्रतिशत की गिरावट हुई. अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय स्थिति की बात की जाये तो नुकसान के दिनों में भी कच्चे तेल की कीमतों में तक़रीबन 20 फीसदी का उछाल आया हालंकि ऐसे लाभ कम हुआ. कच्चे तेल के लिए वैश्विक बेंचमार्क – अंतिम बार $ 2.10 – या 8 प्रतिशत – 26.98 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार करते देखा गया।

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कोरोना वाइरस के वजह से काफी नुकसान होते पाया गया है. इससे व्यापक तौर पर आर्थिक स्तर को क्षति पहुँची है. विशेषज्ञों का कहना है कि आर्थिक व्यापार में खरीददारी बंद हैं और इस क्षेत्र में नीति बनाये जाने के बावजूद भी कुछ खास लाभ नहीं देखा जा रहा है.

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here