विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों के साथ EC की चर्चा, विपक्ष ने लिखा था चिट्ठी

0
262

बिहार में विधानससभा चुनाव को लेकर अब कबायत तेज हो गई है. आज बिहार में चुनाव आयोग बिहार के राजनीतिक दलों से वीडियों कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत करेगा. आपको बता दें कि इस साल अक्टूबर-नवंबर महीने में विधानसभा का चुनाव होना है. इसको लेकर सत्ताधारी पार्टिया चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है तो वहीं विपक्ष कोरोना का हवाला देते हुए चुनाव को अगले साल कराने की बात कह रहे हैं. इधर बिहार एनडीए के साथ लोजपा ने भी कोरोना काल में चुनाव नहीं करने की बात कही है. ऐसे में यह माना जा रहा है कि आज होने वाली बैठकों में राजनीतिक पार्टियों के साथ चुनाव को लेकर चर्चा हो सकती है.

आपको बता दें कि शुक्रवार को बिहार के तमाम विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग के एक पत्र लिखा था जिसमें उन्होंने कोरोना काल में चुनाव न कराने की बात कही थी. उन्होने कहा था कि वह यह समीक्षा करे कि क्या इस महामारी के दौरान निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव हो सकते हैं? पत्र के जरिए मतदाताओं और पार्टियों के बीच डर का जिक्र करते हुए कहा गया है कि चुनाव एक सुपर स्प्रेडर इवेंट नहीं बनना चाहिए.

बिहार की विपक्षी पार्टियों ने चुनाव आयोग को लेटर लिखते हुए कहा है कि ‘यह मान लेना चाहिए कि अभी भी कई ऐसे लोग संक्रमित हो सकते हैं, जिनमें लक्षण नहीं दिखाई दे रहे होंगे. वहीं, कई संक्रमित लोगों की टेस्टिंग नहीं हुई होगी. ऐसे में ये लोग एक जगह से दूसरी जगह आते-जाते हैं, जिससे कोरोना का प्रसार होने की आशंका है. आशंका जताई जा रही है कि अक्टूबर-नवंबर में होने वाले बिहार चुनाव के समय बिहार में कोरोना के लाखों मामले हो सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here