इडेन गार्डंन में हो सकता है पहला डे/नाइट क्रिकेट टेस्ट मैच, बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को भेजा प्रस्ताव

0
605

क्रिकेट के इतिहास में 22 नवंबर को एक नया अध्याय जुड़ने वाला है. इस ईडन गार्डंन मैदान में पहला डे/ नाइट टेस्ट मैच खेला जाएगा. टेस्ट मैच शुरु होने से पहले भारत और बांग्लादेश के बीच क्रिकेट बोर्ड स्तर की होने वाली मंजुरी पूरी कर ली गई है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को डे/नाइट मैच खेले जाने की बात कही गई थी.

BCCI के मेल के बाद बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने लिखा है कि टेस्ट मैच को डे/ नाइट के तौर पर खेला जाए बाग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के सीईओ निजमुद्दीन चौधरी ने कहा कि हमें बीसीसीआई से एक प्रस्ताव मिला है और इस पर अंतिम फैसला करने से पहले हम खिलाड़ियों और टीम प्रबंधन के साथ बाचतीत कर रहे हैं.

आपको बता दें कि BCCI अध्यक्ष बनने के बाद सौरव गांगुली का कोई बड़ा फैसला है जिसमें उन्होंने डे/नाइट मैच के पक्ष में नजर आ रहे है. इससे पहले जब क्रिकेट असोसिएशन ऑफ बंगाल के अध्यक्ष पद पर रहते हुए जुन 2016 में उन्होंने भारत का पहला पिंक बॉल मैच कराने की पहल की थी. इस बार भारत और बांग्लादेश के बीच दो टेस्ट मैचों का सीरीज खेला जाएगा जिसका पहला टेस्ट इंदौर में है वही दूसरा मैच 22 नवंबर को ईडन गार्डंन में खेला जाना है.

बता दें कि BCCI का अध्यक्ष पद संभालने के बाद से ही सौरव गांगुली डे/नाइट टेस्ट मैच के पक्ष में नजर आ रहे हैं. यह बात भी याद रखने वाली है कि क्रिकेट असोसिएशन ऑफ बंगाल के अध्यक्ष के रूप में जून 2016 में गांगुली ने ही भारत का पहला पिंक बॉल मैच कराने की पहल की थी. भारत और बांग्लादेश के बीच दो टेस्ट मैचों का सीरीज खेला जाना है. पहला टेस्ट मैच 14 नवंबर को इदौर में जबकि दूसरा टेस्ट मैच 22 नवंबर को ईडन गार्डंस में खेला जाना है.

बांग्लादेश क्रिकेट टिम को भारत में दो टेस्ट मैच और तीन T-20 मैच खेलने के लिए भारत आना है. सीरीज की घोषणा के साथ ही बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने किसी भी सीरीज में खेलने से मना कर दिया उनका कहना है कि हमे सुविधाएं नहीं दी जा रही है. खिलाड़ियों ने सरकार के सामने कुछ प्वाइंट रखे हैं उसके बाद ही वह किसी भी सीरीज में खेलने की बात कह रहे है. फिलहाल अभी भी यह सीरीज अधर में लटकता दिख रहा है क्योंकि अभी भी कुछ सिनियर खिलाड़ी सीरीज में खेलने का विरोध कर रहे है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here