BREAKING NEWS : चुनाव आयोग ने सभी उपचुनावों को टाला, अब बिहार में क्या होगा !

देश के कई राज्यों में विधानसभा के उपचुनाव होने वाले हैं. इसको लेकर लगातार सस्पेंस बना हुआ था कि ये चुनाव आखिर कब होंगे क्योंकि संवैधानिक प्रावधानों के अनुसार रिक्त हो चुके सीटों पर छह महीने के अंदर चुनाव करा लिए जाने चाहिए लेकिन कोरोना की प्रलयंकारी स्थिति ने विचित्र परिस्थिति पैदा कर दी है. ऐसे में चुनाव आयोग का एक बड़ा ही महत्वपूर्ण फैसला आ गया है. चुनाव आयोग ने बयान जारी कर सभी उपचुनावों को टाल दिया है.

कोरोना और बाढ़ बड़ी वजह

देश भर में कोरोना महामारी को देखते हुए चुनाव आयोग ने कहा है कि फिलहाल देश में स्थिति सामान्य नहीं है. जैसे ही देश में स्थिति सामान्य हो जाएगी, वैसे इन विधानसभा उपचुनावों के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया जाएगा. मालूम हो कि विधानसभा उपचुनावों के साथ साथ देश में कई लोकसभा सीटों पर भी उपचुनाव होने हैं. पहले से ऐसे कयास लगाए जा रहे थें कि चुनाव आयोग उपचुनावों की तारीखों को आगे बढ़ा सकता है. चुनाव आयोग ने कोरोना के साथ साथ देश के कई राज्यों में आई बाढ़ को भी फिलहाल उपचुनाव न कराने की वजह बताई है.

बिहार में क्या होगा ?

मालूम हो कि बिहार में भी कोरोना और बाढ़ दोनों ही विध्वंसक रुप धारण कर चुके हैं. बिहार में विपक्षी दल भी परिस्थितियों को देखते हुए चुनावों को आगे टालने के पक्ष में हैं जबकि सीएम नीतीश कुमार और सहयोगी भारतीय जनता पार्टी हर हाल में सही समय पर विधानसभा चुनाव कराने के अपने रुख पर कायम है.

जदयू और भाजपा ने तो बाकायदा चुनावों की तैयारियां भी शुरु कर दी है. विधानसभा चुनाव के साथ साथ बिहार में वाल्मिकीनगर लोकसभा सीट पर भी उपचुनाव होना है. जदयू सांसद वैद्यनाथ महतो के निधन की वजह से यह सीट खाली हो चुकी है. चुनाव आयोग ने जिस प्रकार से उपचुनावों को लेकर फैसला किया है, उससे बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों को लेकर सस्पेंस एक बार फिर से बढ़ गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here