पटना में अचानक बढ़ी इस स्कूटी की मांग, कई दिनों से वेटिंग में हैं खरीदार

0
363

तेल की कीमतों में बढ़ोतरी के साथ पटना में इ-स्कूटी की खरीदारी करने वालों की मांग भी अचानक बढ़ गई है. यहां के लोग तेल में पैसे लगाने के बजाय इलेक्ट्रिक स्कूटी ही खरीदना पसंद कर रहे हैं. इस वजह से पटना में दिन प्रतिदिन इ-स्कूटी के शोरूम की संख्या बढ़ती जा रही है.

लेकिन इनकी मांग इतनी है कि लोगों के बीच इसकी आपूर्ति नहीं हो पा रही है. कई प्रमुख ब्रांडेड कंपनियों की इलेक्ट्रिक स्कूटी को लेकर वेटिंग चल रही है. दो महीने बाद इनकी आपूर्ति की संभावना जताई जा रही है. हालांकि बाजार में बिना ब्रांड वाले लोकल कंपनियों के इ-स्कूटी उपलब्ध भी है लेकिन लोग इसे खरीदना नहीं चाह रहें हैं.

लोगों को करना पड़ रहा इंतजार 

लोगों का कहना है कि हमें भले इंतजार करना पड़े लेकिन हम ब्रांडेड कंपनियों के स्कूटी ही लेंगे. क्योंकि उनपर हमारा भरोसा अधिक है. बताया जा रहा है पिछले कुछ समय में बाजारों में सेमी कंडक्टर नहीं उपलब्ध हो पा रहा है. इस वजह से ब्रांडेड इ-स्कूटरों का उत्पादन ठप है.

इस कारण उत्पादन ठप 

जिसके चलते शोरुम मालिकों को भारी नुकसान उठाना पर रहा है. जबकि  शोरुम मलिक सेफ्टी के नाम पर 20 लाख से अधिक का निवेश भी कर चुकें हैं. लेकिन इ-स्कूटर उपलब्ध नहीं होने के वजह से इस निवेश की भरपाई करने में दिक्कतें आ रही रहीं. इस मामलें में हीरो इलेक्ट्रिक स्कूटी के एक अधिकृत विक्रेता के मुख्य अधिकारी ने स्थानीय मीडिया प्रतिनिधि को यह बताया है कि कंपनी ने मार्च महीने ने कुछ मॉडल दिए थे.

उसके बाद दो महीनों से एक भी स्कूटी नहीं दिया गया है. जिसके कारण ग्राहकों को लौटना पर जा रहा है. कंपनी के तरफ से सिर्फ जल्द से जल्द माल भेजे जाने का आश्वासन दिया जा रहा है. चिप्स के कारण उत्पादन के ठप होने के वजह से इलेक्ट्रिक स्कूटी का उत्पादन भी नहीं हो रहा है.

इस कारण से हो रही ब्रांडेड कंपनियों की इलेक्ट्रिक स्कूटी की मांग 

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो पटना जिलें में इलेक्ट्रिक स्कूटी की शोरुम की संख्या 50 से अधिक है. जिनमें कई ब्रांडेड कंपनि‍यां भी शामिल है. लोग ब्रांडेड कंपनियों की इलेक्ट्रिक स्कूटी इसलिए खरीदना चाहते हैं क्योंकि इस पर तीन साल की वारंटी मिलती है.

पटना के बाजारों के ब्रांडेड कंपनि‍यों के इलेक्ट्रिक स्कूटी की कीमत 70 हजार से एक लाख के बीच है. लेकिन सिर्फ चार्जे करने के बाद चलने और तेल भरवाने के झंझट से मुक्ति पाने के लिए लिए इलेक्ट्रिक स्कूटी को खरीदने के तरफ अग्रसर हो रहें हैं. वहीं प्रदुषण नियंत्रण को लेकर भी इलेक्ट्रिक स्कूटी को चलाना काफी हद तक सही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here