खाना बांटते बांटते भीख मांगने वाली से हो गया प्यार, रचा ली शादी

0
1394

लॉकडाउन का दौरान कई ऐसी तस्वीरें सामने आई जो आज तक हमने नहीं देखी थी. यह पूरी कहानी किसी फिल्में परदे की तरह जान पड़ती है लेकिन यह हकिकत है. यह तस्वीर कानपुर से सामने आई है. जिसमें एक लड़की भिखारियों के साथ बैठ कर खाना मांगती थी. उसी भिख से वह अपने मां और पिताजी का पेट भरती थी. लॉकडाउन के बीच एक शख्स है जो रोज इन भिखारियों के लिए खाना बांटने आता है. और उसे एक दिन एक भिखारन से प्यार हो जाता है और वे दोनों शादी के बंधन में बंध जाते हैं.

कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर लालता प्रसाद डॉकडाउन के दौरान गरीबों को खाना बांट रहे थे. इसी दौरान उनकी नजर नीलम पर पड़ी जो भीख मांगकर अपने मां बाप का पेट भरती थी. लालता प्रसाद ने उसे खाना दिया और अपने ड्राइवर को अनिल से कहा कि इसे भी रोज खाना दे दिया करना. अनिल ने ऐसा करना शुरू कर दिया. करीब दो महीने तक अनील नीलम के यहां खाना पहुंचाया करता था. वह नीलम के अलावा और लोगों को भी खाना बांटता था. इसी बीच अनील और नीलम के बीच में प्यार पनपने लगा. कई बार तो ऐसा होता था कि अनील खुद से खाना बना कर नीलम को दे आता था.

इस प्रेम कहानी की जानकारी प्रॉपर्टी डीलर लालता प्रसाद को लग गई उन्होंने अनील से बात की अनील ने हामी भर दी अब समस्या थे अनील के पिताजी लालता प्रसाद ने खुद जाकर अनील के पिताजी से बात की उनको समझाया उसके बाद अनील के पिताजी ने भी हामी भर दी अब दोनों की शादी की तैयारी शुरू हो गई. नीलम को भीख मांगने वाली जगह से लाया गया. साथ ही उसकी मां को भी लाया गया. फिर नीलम को दुल्हन बनाया गया उसके बाद कानपुर के भगवान बुद्ध आश्रम में दोनों की शादी हो गई. शादी के समय भगवान बुद्ध और बाबा साहेव भीमराव आंबेदकर की प्रतिमा भी लगाई गई. इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा गया था. इस शादी की चर्चा सोशल मीडिया पर खुब हो रही है.

स्त्रोतः-https://www.india.com/hindi-news/uttar-pradesh/lockdown-social-worker-man-fall-in-love-with-beggar-girl-get-married-in-kanpur-4038561/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here