बिहार के कई जिलों में बाढ़ का खतरा, बागमती और कमला खतरे के निशान से ऊपर

0
236

नेपाल और बिहार में हो रही भारी बारिश से प्रदेश में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है. प्रदेश में महानंदा, कमला बलान, कोसी और बागमती नदियों में उफान है और कुछ तो खतरे के निशान से ऊपर वह रही है. इन नदियों के जल स्तर में वृद्धि होने से गंगा के जल स्तर में भी वृद्धि हो रही है. नदियों के जल स्तर में वृद्धि होने से दरभंगा और सीतामढ़ी के निचले हिस्से में बाढ़ का पानी घुस गया है जिससे प्रदेश के कई गांव इसकी चपेट में आ गए हैं.

आपको बता दें कि उत्तरी बिहार के कई इलाकों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. प्रदेश के कई जिलों में रुक रुक कर बारिश हो रही है. उत्तरी बिहार के कई नदियां खतरे के निशान को छूने वाले हैं. वहीं मंगलवार को मधुबनी में कमला खतरे के निशान से 50 सीमी ऊपर बह रही है. इस इलाके में बागमती नदी बेनीबाद में खतरे के निशान से 39 सेमी ऊपर बह रही है.

इधर मधुबनी के झंझारपुर में कमला नदी खतरे के निशान से 50 सेमी ऊपर बह रही है. यहां कमला का जलस्तर 50.50 मीटर दर्ज किया गया. जबकि अधवारा समूह की सहायक नदी धौंस में तेजी से जलस्तर बढ़ रहा है. नदी के बढ़ते जलस्तर से जिले में बाढ़ की आशंका बढ़ गई है. बिस्फी में कई उपनहरों में पानी आने से खेतों में पानी फैलने लगा है. बाढ़ की स्थिति को देखते हुए जिला प्रशासन को अलर्ट मोड में रखा गया है. वहीं एनडीआरएफ और एसीआरएफ की टीमें तैनात कर दी गई हैं. ये जवान लोगों को बाढ़ के प्रति जागरूक कर रहे हैं और बचने के तरीके बता रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here