पटना के गाँधी मैदान में हजारों की भीड़ में आग की लपटों में झुलस गया रावण

0
373

दशहरा(Dusshera) के मौके पर पटना(Patna) के गाँधी मैदान(Gandhi Maidan) में रावण दहन के लिए भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. मौके पर मुख्यमंत्री नितीश(Nitish Kumar) कुमार के साथसाथ कई जदयू(JDU) और कांग्रेस(Congress) के नेता भी मौजूद थे वही हजारों की तादाद में आये लोग भी इस ऐतिहासिक मौके के साक्षी बने. मंगलवार(Tuesday) को बुराई पर अच्छाई का प्रतीक रावण(Raavan) आग की लपटों में धूधू कर जल गया. रावण के साथ साथ भाई कुम्भकरण(Kumbhkaran) और रावण के बेटे मेघनाथ(Meghnath) के पुतले को भी आग के हवाले किया गया.

 

गांधी मैदान(Gandhi Maidan) में रावण दहन के लिए बड़े ही लुभावने तरीके से रावण की लंका बनाई गई थी. उसके बगल में सीता(Sita) के अपहरण के बाद सीता का आश्रय स्थान अशोक वाटिका(Ashok Vatika) की भी प्रतिमा बनायीं गयी थी. लोगो की भीड़ को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर रखी थी. सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जगहजगह पर सीसीटीवी(CCTV) कमरा लगाये गए थे.

आपको बता दे 75 फीट के बना रावण, दहन से एक रात पहले ही धड़ाम से ज़मीं पर गिर गया था. हालांकि समय रहते इसे कमिटी के लोगो ने वापस से खड़ा कर दिया था. वही रावण दहन के साथ साथ बिहार की राजनीती में भी नेताओ के बीच आग लगी है. उपस्थिति को लेकर दोनों दलगत पार्टी(भाजपाजदयू) एक दुसरे के सामने खड़े हो गए है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here